West Bengal Sabujshree Yojana 2022 पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 साइकिल बांटने की प्रक्रिया

0
869
West Bengal Sabujshree Yojana 2021
West Bengal Sabujshree Yojana 2021

पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य की स्कूल जाने वाली कन्याओं के लिए पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना नामक योजना का का शुभारंभ किया। इस योजना को संयुक्त राष्ट्र की ओर से आयोजित सम्मान समारोह में चैंपियन प्रोजेक्ट के तौर पर घोषित किया गया। इस योजना के अनुसार स्कूल जाने वाली नौवीं कक्षा से लेकर 11वीं कक्षा तक की लड़कियों तथा कॉलेज तक की लड़कियों को कॉलेज जाने के लिए साइकिल उपलब्ध करवाए जाएंगे। इस योजना की घोषणा सितंबर, 2015 में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री माननीय ममता बनर्जी द्वारा की गई।

इस योजना की घोषणा से पहले पश्चिम बंगाल में संयुक्त राष्ट्र की तरफ से एक सम्मान समारोह आयोजित किया गया था। इस समारोह में 1,140 परियोजनाओं को 18 श्रेणियों में बांटा गया था और इन परियोजनाओं पर वोटिंग की गई थी। 20 लाख से अधिक वोट इन परियोजनाओं के लिए डाले गए थे। इन सभी योजनाओं में से पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना को सबसे ज्यादा वोट मिले थे। इस योजना को बहुत सराहा गया। आईटीयू की तरफ से पुरस्कार देते हुए इस योजना को चैंपियन प्रोजेक्ट के तौर पर घोषित कर दिया गया था। इसके अलावा वोटों की अधिकतम संख्या के आधार पर ई गवर्नेंस श्रेणी के 5 फाइनलिस्ट में से एक माना गया।

इस योजना को शुरू करने का कारण यह है कि ज्यादातर लड़कियां अपनी शिक्षा इसीलिए छोड़ देती है क्योंकि उन्हें दूरदराज क्षेत्र में जाकर पढ़ाई करने के लिए कोई साधन मुहैया नहीं होता। गांवों तथा शहरों से दूर पढ़ाई करने वाली लड़कियों को साधन मुहैया करवाने के लिए ही इस योजना के तहत साइकिल उपलब्ध करवाए जाएंगे।

इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा साइकिल ई टेंडर के माध्यम से खरीदे जाएंगे। साइकिल के अंदर फ्रंट बास्केट, कैरियर, स्टैंड, फुल-हाफ चेन कवर, घंटी आदिमान मानक शामिल होंगे। राइडर की सुरक्षा के लिए भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी की गई सलाह के अनुसार 10 विशेष रिफ्लेक्टर वहन भी शामिल होंगे।

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 का उद्देश्य (West Bengal Sabujshree Yojana 2022: Objective)

स्कूल जाने वाली कन्याओं तथा कॉलेज जाने वाली लड़कियों को शिक्षा हासिल करने के लिए किसी भी प्रकार की समस्या ना आए और वह दूर दराज क्षेत्रों में स्थापित स्कूल तथा कॉलेज में बिना किसी रूकावट के आ जा सके, इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना आरंभ की गई है।

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 के लाभ (West Bengal Sabujshree Yojana 2022: Benefits)

  • इस योजना के अंतर्गत 9वीं से 12वीं कक्षामें पढ़ रही कन्याओं को मुफ्त साइकिल बांटे जाएंगे।
  • कॉलेज जाने वाली लड़कियों को भी इस योजना के तहत मुफ्त साइकिल वितरित किए जाएंगे।
  • इस योजना के अनुसार 70 लाख से अधिक साइकिल वितरित किएजा चुके हैं, जल्द ही यह संख्या एक करोड़ तक पहुंच जाएगी।
  • कन्याओं को शिक्षा हासिल करने के लिए दूर क्षेत्रों में जाना आसान हो जाएगा।
  • लड़कियां स्कूल तथा कॉलेजों में आसानी से पहुंच पाएंगी।
  • गरीबी रेखा से नीचे जीने वाले परिवार तथा पिछड़ी श्रेणियों से संबंधित परिवार की कन्याओं को मुफ्त साइकिल बांटे जाएंगे।

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 के अंतर्गत तय किए गए नियम (West Bengal Sabujshree Yojana 2022: Rules and Guidelines)

  • इस योजना का लाभ केवल पश्चिम बंगाल में रहने वाले परिवार की कन्याओं को मिलेगा।
  • स्कूल तथा कॉलेज जाने वाली छात्राओं को भी इस योजना के अंतर्गत मुफ्त साइकिल बांटे जाएंगे।
  • छात्राएं पिछड़े वर्ग से संबंधित होनी चाहिए।
  • गरीबी रेखा से नीचे गुजर बसर करने वाले परिवार की कन्याओं को भी इस योजना के अंतर्गत साइकिल वितरित किए जाएंगे।
  • बीपीएल दस्तावेज होने अनिवार्य हैं।
  • जाति आधारित प्रमाण पत्र भी आवेदन के लिए अनिवार्य हैं।

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 आवश्यक दस्तावेज (West Bengal Sabujshree Yojana 2022: Required Documents)

  • छात्रा का आधार कार्ड
  • छात्रा केशैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • जातीय प्रमाण पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
  • मूलनिवासी पहचान पत्र
  • कॉलेज जाने वाली छात्रा का 12वीं कक्षा का सर्टिफिकेट

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 साइकिल बांटने की प्रक्रिया (West Bengal Sabujshree Yojana 2022: Cycle Distribution)

  • योजना के अंतर्गत साइकिल बांटने के लिए राज्य के स्कूल पश्चिम बंगाल सबुज श्री पोर्टल के माध्यम से छात्राओं के नाम ऑनलाइन दर्ज करेंगे।
  • इसके बाद विद्यालयों के उप निरीक्षक, अतिरिक्त जिला निरीक्षक तथा स्कूल के जिला निरीक्षक द्वारा छात्राओं के ऑनलाइन आवेदन को चेक किया जाएगा।
  • खंड विकास अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि किन छात्राओं को साइकिल की अधिक जरूरत है। उन छात्राओं का नाम तथा स्कूल को टैग किया जाएगा। जिन स्कूलों में कि विद्यार्थी छात्राओं को साइकिल बांटे जाएंगे उस स्कूल को तय किया जाएगा।
  • अंत में स्कूल अपनी लॉगिन सुविधा के तहत रिकॉर्ड तैयार करेंगे और इसी से स्कूलों में साइकिल वितरण की तारीख, छात्रा के विवरण आदि जैसा डाटा अपलोड किया जाएगा।
  • इसके पश्चात जिलेवार, ब्लॉकवार तथा व्यक्तिगत छात्रा वार साइकिल वितरण वितरित किए जाएंगे।

पश्चिम बंगाल सबुज श्री योजना 2022 योजना की स्थिति (West Bengal Sabujshree Yojana 2022)

योजना के अंतर्गत साल 2015 और 16 के शुरू के तीन चरणों में कक्षा 9वीं से लेकर 11वीं तक की छात्राओं को 43 लाख से अधिक साइकिल खरीदे और वितरित किए गए। राज्य सरकार द्वारा अभी भी साइकिल बांटने की निरंतरता बनाए रखने की कोशिश जारी है।

लड़कियों को स्कूल जाने के साधन मुहैया करवाने की यह योजना पश्चिम बंगाल सरकार की एक अच्छी पहल है। इससे लड़कियों को शिक्षा हासिल करने के लिए दूरदराज क्षेत्रों में जाने के लिए किसी और साधन की जरूरत नहीं पड़ेगी। वह अपने आप दूरदराज क्षेत्रों में स्थित स्कूलों तथा कॉलेजों में जा पाएंगे। इससे उनके समय की भी बचत होगी और वह शिक्षा भी हासिल कर पाएंगी।

जो लड़कियां सिर्फ इसीलिए स्कूल और कॉलेज छोड़ देती थी कि उनके पास जाने के लिए कोई साधन ही नहीं होता था। वह अब निसंकोच अपनी पढ़ाई जारी रख पाएंगी।

पश्चिम बंगाल सरकारी योजना 2022 सरकारी योजना List प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here