West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022 West Bengal Khadya Sathi Yojana 2022 पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022

0
1761
West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022
West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022

जेसा की आप सभी जानते है कि भारत एक ऐसा देश है जो जिसमें गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोग है जो कि अपना एक समय का खाना भी नहीं खा पाते है। इस बात को ध्यान रख कर सरकार ने ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ योजना से बाहर होने पर विचार कर रही है। इस योजना के तहत देश के किसी भी हिस्से में राशन की दुकानों से रियायती अनाज खरीदा जा सकता है। और आधे दाम में अनाज दिया जा सकता है। आइये अब हम आपको इस योजना के बारे में हम आपको निचे बताने जा रहे है।

पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022 के उद्देश्य (West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022: Objective)

पश्चिम बंगाल की सरकार ने  27 जनवरी 2016 में  लोगो के लिए कम सब्सिडी वाले मूल्य पर अनाज को वितरित करने के लिए खाद्य साथी योजना को  शुरू किया गया  है। इस योजना के अंतर्गत सरकार ने 7 करोड़ 49 लाख लोगों को चावल और गेहूं को 2 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्रदान किया है। पश्चिम बंगाल में लगभग 90% आबादी को लगभग 50 लाख लोगों को बाजार मूल्य के आधे मूल्य में चावल और गेंहू दिए गए है ताकि कोई भी गरीब लोग भूखे  न रहे। इस योजना के चलते जो लोग गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को सब्सिडी वाले चावल प्रदान करना है।

पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022 के लाभ (West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022: Benefits)

आइए अब हम आपको बताते है कि पश्चिम बंगाल में खाद्य साथी योजना से होने वाले लाभ जो कि हम आपको बताने जा रहे है।

  • इस योजना का लाभ गरीब लोग उठा सकते है जिस से उनको खाने की समस्या भी नही होगी।
  • सरकार ने 7 करोड़ 49 लाख लोगों को चावल और गेहूं को 2 रुपये प्रति किलो दे दिया है।
  • पश्चिम बंगाल में लगभग 50 लाख लोगों को बाजार कि कीमत से भी आधे कीमत  में चावल और गेहूं दिये जायेंगे।

पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022 के लिए पात्रता क्या होनी चाहिए (West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022: Eligibility)

नीचे हम आपको बताने जा रहे है कि पश्चिम बंगाल में खाद्य साथी योजना के बारे में आपको क्या क्या बात पता होनी चाहिए।

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति को पश्चिम बंगाल का ही स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए राशन कार्ड जरूर होना चाहिए।
  • जिन लोगो के जिले में सूखा प्रभावित लोग, चाय उद्यान कार्यकर्ता और उनके परिवार प्रभावित लोग, सिंगुर के लोग जो जो अपनी जमीन खो चुके थे, कोलकाता के बेघर लोग और दार्जिलिंग के पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले लोग खाद्य साथी योजना में आसानी से आवदेन कर सकते है।

पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022 के लिए दस्तावेज (West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022: Required Documents)

आइये अब हम आपको बताते पश्चिम बंगाल में खाद्य साथी योजना के लिए आपको किन दो मुख्य दस्तावेज की जरूरत पड़ेगी इस योजना का लाभ उठाने के लिए जो कि हम आपको नीचे बताने जा रहे है।

  • आवेदक का खुद का आधार कार्ड होना बहुत जरूरी है।
  • आवेदक का राशन कार्ड उसके ही नाम पर होना चाहिए।

पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करें (West Bengal Khadya Sathi Scheme 2022: Registration Process)

आइए अब हम आपको बताते है कि पश्चिम बंगाल खाद्य साथी योजना में आप आवेंदन कैसे कर सकते है। जो की आप नीचे देख सकते है।

  • आपको इस योजना में आवेंदन करने के लिए आपको सबसे पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने डिजिटल राशन कार्ड के लिए आवेदन करना होगा।
  • 1 मार्च 2017 में पश्चिम बंगाल में  पुराने राशन कार्ड की वैधता को मंजूरी दे दी गई है
  • फिर आप आवेदक पश्चिम बंगाल में खाद्य विभाग में संपर्क कर सकते हैं।
  • पश्चिम बंगाल में उचित मूल्य की दुकान (एफ.पी.एस) के माध्यम से अनाज वितरित किया जाएगा।
पश्चिम बंगाल सरकारी योजना 2022 सरकारी योजना List प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here