Kanya Sumangala Yojana 2022 कन्या सुमंगला योजना 2022

0
1458
Kanya Sumangala Yojana 2022
Kanya Sumangala Yojana 2022

 क्या आपको पता है कन्या सुमंगला योजना क्या है और इसका लाभ कौन लोग उठा सकते है। कन्या सुमंगला योजना का शुभारम्भ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा किया गया है। इस कन्या सुमंगला योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश राज्य की कन्याओ के भविष्य को बेहतर बनाना है। कन्या सुमंगला योजना के तहत उत्तर प्रदेश में बेटी  के जन्म से लेकर पढाई तक का पूरा खर्च सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किया जायेगा। उत्तर प्रदेश राज्य की कन्या सुमंगला योजना के तहत एक परिवार की 2 बेटियों को ही इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने बेटियों के प्रति जागरूक करने के लिए यह एक सम्पूर्ण योजना बनायीं है। कन्या सुमंगला योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बालिकाओ को 15000 रूपये की कुल धनराशि दी जाएगी। कन्या सुमंगला योजना के तहत बालिकाओ को दी जाने वाली कुल धनराशि 6 समान किश्तों में दी जाएगी। इस कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत कन्याओ के परिवार की सालाना आय अधिकतम 3 लाख या इससे कम होनी चाहिए। जभी वो इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना के लिए कुल बजट 1200 करोड़ रूपये रखा है। तो चलिए आज हम आपको कन्या सुमंगला योजना से जुडी महत्वपूर्ण बातें बतायेगे। और इस योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,दस्तावेज़ आदि चीजों के बारे में बतायेगे।

कन्या सुमंगला योजना 2022 की 6 किश्ते ( Kanya Sumangala Yojana 2022: Installment)

Kanya Sumangala Yojana 2021
Kanya Sumangala Yojana 2022

कन्या सुमंगला योजना 2022 के लिए पात्रता ( Kanya Sumangala Yojana 2022: Eligibility)

  1. कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने वाला परिवार उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए तथा उसके पास स्थाई निवास प्रमाण पत्र भी होना चाहिए। जिसमे राशन कार्ड, आधार कार्ड , वोटर पहचान पत्र , बिजली या टेलीफोन बिल मान्य होगा।
  2. कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने वाला परिवार की सालाना आय तीन लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए।
  3. कन्या सुमंगला योजना का लाभ एक परिवार में सिर्फ दो बच्चियों को ही मिलेगा।
  4. कन्या सुमंगला योजना के तहत अगर किसी महिला को दूसरे प्रसव के बाद जुड़वाँ बच्चे होने पर तीसरी संतान के रूप में लड़की को भी लाभ अनुमन्य होगा।
  5. कन्या सुमंगला योजना के तहत अगर किसी परिवार ने अनाथ बालिका को गोद लिया है तो परिवार की जैविक संतानों तथा विधिक रूप में गोद ली गई संतानों को सम्मिलित करते हुए अधिकतम दो बालिकाएं ही इस कन्या सुमंगला योजना की लाभार्थी होंगी।

कन्या सुमंगला योजना 2022 के लिए महत्वपूर्ण कागजात ( Kanya Sumangala Yojana 2022: Required Documents)

  1. कन्या सुमंगला योजना के तहत लाभार्थी परिवार के पास राशन कार्ड होना चाहिए और राशन कार्ड में बालिका का नाम भी दर्ज होना चाहिए।
  2. कन्या सुमंगला योजना के तहत बालिका का आधार कार्ड और माता पिता अभिभावक का यदि उपलब्ध हो तो बालिका का PAN कार्ड Voter ID कार्ड Driving Licence Passport और बैंक पासबुक।
  3. कन्या सुमंगला योजना के तहत लाभार्थी परिवार के पास सालाना आय के संबंध मे स्व-सत्यापन होना चाहिए।
  4. कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने वाली बालिका का नवीनतम फोटो।
  5. यही बालिका गोद ली हुई हो तो बालिका का गोद लेने का प्रमाणपत्र।

कन्या सुमंगला योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन। (Kanya Sumangala Yojana 2022: Online Registration)

  1. कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको कन्या सुमंगला योजना की ऑफिसियल वेबसाइट “https://mksy.up.gov.in/women_welfare/index.php”  पर जाना होगा।
  2. ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद ‘Quick Links’ सेक्शन में जा कर ‘Citizen Services Portal’ ऑप्शन में “Apply Here” पर क्लिक करना होगा।
  3. अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा। यहाँ आपको आवेदन करना होगा।
  4. आवेदन फॉर्म में मांगी गई महत्वपूर्ण जानकारी को धायनपूर्वग भरना होगा और ओटीपी के माध्यम से अपना नंबर वेरिफिकेशन करना होगा।
  5. सही ओटीपी डालने के बाद कन्या सुमंगला योजना में आपका आवेदक पंजीकरण हो जायेगा और आपको एक यूजर आईडी मिलेगी। पासवर्ड वही रहेगा जो अपने चुना होगा।
  6. उसके बाद आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर यूजरनाम और पासवर्ड डालकर कभी भी लॉगिन कर अपनी जानकारी चेक कर सकते है।

कन्या सुमंगला योजना 2022 के लाभ (Kanya Sumangala Yojana 2022: Benefits)

  1. उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना एक ऐसी योजना है जो बालिकाओं के विकास के लिए विशेष रूप से काम करती है और उनकी सामाजिक सुरक्षा भी सुनिश्चित करती है।
  2. उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना राज्य में बालिकाओं की सुरक्षा और संरक्षण, स्वास्थ्य और शिक्षा से संबंधित सभी बाधाओं को समाप्त करने के उद्देश्य से लागू की गई है।
  3. कन्या सुमंगला योजना के तहत लाभार्थी के परिवार की सालाना आय अधिकतम तीन लाख या उससे कम होनी चाहिए होनी चाहिए तभी वह परिवार इस योजना का लाभ उठा सकेगा।
  4. उत्तर प्रदेश की इस कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत एक परिवार की अधिकतम दो बालिकाओं को इस योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा। यदि राज्य की कोई महिला अपनी दूसरी डिलीवरी के समय जुड़वा बच्चों को जन्म देती है तो तीसरी लड़की भी योग्य होगी।
  5. उत्तर प्रदेश की इस कन्या सुमंगला योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक सबसे पहले इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा । आप लोग घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से भी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here