बिहार में सबमर्सिबल पंप 2022 | Submersible Pump Bihar 2022

0
2075
Submersible Pump Bihar 2021
Submersible Pump Bihar 2021

जाने कैसे लगाए बिहार में सबमर्सिबल पंप 2022 और कैसे करें इसके लिए रजिस्ट्रशन| Submersible Pump Bihar 2022

क्या आपको पता है बिहार सरकार ने 2016 के चुनाव के समय नीतीश कुमार ने सात निश्चय किया था। जिनमे से एक था सभी घरों को नल का पानी दिया जाएगा। इस योजना पर बिहार सरकार ठीक ठाक काम कर रही है। हो सकता है कि इस साल के लास्ट तक बिहार सरकार लाखों घरों को नल वाला जल उपलब्ध करा दे। ताकि सभी लोगों घरों में पाइप से पानी जाने लगे। इससे पहले कि बिहार में सूखा आ जाए और भूमिगत जलस्तर और तेज़ी से नीचे चला जाए, उससे पहले हमें जगह जगह लगाए जा रहे सबमर्सिबल पंप के ख़तरों का अंदाज़ा कर लेना चाहिए। इन चीजों लेकर शायद बिहार सरकार ने ठीक ही सोचा होगा कि बिहार के लोगों को घर में पानी मिलना चाहिए। उसके पास उपलब्ध समाधानों में यही एक समाधान भी होगा। जिससे वह तेज़ी से नल का जल पहुंचाते हुए दिखाई देती। इसी लिए शायद बिहार के मुख्यमंत्री ने इसे सात निश्चय में शामिल किया होगा। पटना नगर निगम शहर के सभी 75 वार्ड में 375 सबमर्सिबल पंप लगा रहे है। एक वार्ड में पांच सबमर्सिबल पंप का औसत बनता है। दरभंगा में भी 150 के करीब सबमर्सिबल पंप लग रहा है। राज्य के सभी वार्डों और पंचायतों के लिए यह योजना है। अगर जनता सरकार को अभियान की तरह सबमर्सिबल पंप लगाते देखेगी तो वह ख़ुद भी प्रोत्साहित होगी कि इस तरह के पंप लगाए।

बिहार में सबमर्सिबल पंप लगवाने का उद्देश्य | Submersible Pump Bihar 2022 | Submersible Pump Kainse Lagwaye Bihar

बिहार भारत का एक कृषि प्रधान राज्य है। बिहार की 80% आबादी कृषि पर निर्भर है। बिहार में कुल 77.1 लाख हे० कृषि योग्य जमीन है जिसमे से 44.4 लाख हे० जमीन सिंचित भूमि है। 27 लाख हे० जमीन की सिंचाई डीजल पम्पसेटों से की जाती है। बिहार में सबमर्सिबल पंप लगाने का उद्देश्य कृषकों को निरंतर सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराना है। राज्य सरकार के कृषि रोड मैप वर्ष 2012-2017 में गैर पारम्परिक उर्जा स्त्रोतों द्वारा कुल उर्जा आवश्यकता का 10% अर्थात् 428 मेगावाट की आवश्यकता की पूर्ति 2 एच० पी० (1.5 किलोवाट) के 285000 सोलर पम्पों को विभिन्न चरणों में स्थापित कर पूरा करने का लक्ष्य है। तत्काल पांच जिलों में चयनित प्रखंडों में ही एक पायलट के रूप में योजना कार्यान्वित की जायेगी।

सबमर्सिबल पंप कैसे काम करता है | Submersible Pump Bihar 2022

सबमर्सिबल पंप में एक ए.सी. इलेक्ट्रिक मोटर, इम्पेलर, डिफ्यूज़र, केबल गार्ड, सबमर्सिबल इलेक्ट्रिक केबल होता है। इन सबमर्सिबल पंपों को पृथ्वी में खोदे गए बोरहोल में रखा जाता है और ये ऑपरेशन के लिए विद्युत आपूर्ति से जुड़े होते हैं। वे इम्पेलर की ऊर्जा को पानी की गतिज ऊर्जा में परिवर्तित करके जमीनी स्तर तक पानी उठाते हैं।

सबमर्सिबल पंप खरीदते समय ध्यान रखने योग्य बातें | Submersible Pump Bihar 2022

प्रवाह दर: प्रवाह दर पंप द्वारा पानी की एक विशिष्ट मात्रा को पंप करने के लिए लिया गया समय है, जिसे ज्यादातर लीटर प्रति मिनट में मापा जाता है। यदि आप औद्योगिक उपयोग या खेत के लिए एक सबमर्सिबल पंप खरीद रहे हैं, तो ऐसा पंप चुनें जिसमें 2500 लीटर पानी प्रति मिनट से अधिक पंप करने की क्षमता हो। हालांकि, यदि आप इसे अपने घर के लिए खरीद रहे हैं, तो 100-200 लीटर प्रति मिनट के बीच प्रवाह दर वाला पंप सही रहेगा ।

बोर वेल साइज़: यह बोरहोल का व्यास है जहाँ सबमर्सिबल पंप को रखा जाता है। हमेशा बोर वेल आकार की तुलना में कम बाहरी व्यास का पंप चुने ।

सिर और दबाव: यह वह ऊँचाई है जिस पर सबमर्सिबल पंप पानी उठा सकता है। आपके घर या खेत के आकार और पानी की जरुरत के आधार पर इस पंप को चुने।

आउटलेट / डिलिवरी आकार: यह पाइप का व्यास है जिसके माध्यम से पंप सेट से पानी निकलता है। यह टैंकों से जुड़े पाइप के आकार से मेल खाना चाहिए। यह आमतौर पर इंच और मिमी में मापा जाता है।

डिस्चार्ज दर: यह प्रति मिनट पानी की मात्रा की दर है। यदि आपको अधिक पानी की आवश्यकता है, तो बेहतर निर्वहन दर वाले पंप का चयन करना सही है।

पंप की गुणवत्ता: पंप की गुणवत्ता पंप के प्रदर्शन या अनुप्रयोग को प्रभावित नहीं करती। लेकिन अगर आप एक ऐसे पंप की तलाश कर रहे हैं जो लम्बे समय तक चले, तो नॉरिल इम्पेलर और सी.आई. इम्पेलर के लिए जाएं। इसके अलावा, पंप का ब्रांड भी महत्वपूर्ण है।

छोटे किसानों को कर्ज से बचाने के प्रयास | Submersible Pump Bihar 2022

जिस भी किसान के पास दो-चार एकड़ जमीन है उसके लिए सबमर्सिबल लगवाने का मतलब कर्ज में डूबना है। इसके बाद किसान को यहां बिजली का कनेक्शन भी चाहिए। बिजली कनेक्शन किसानों को बहुत महंगा पड़ता है। ऐसे किसानों के लिए ही सब्सिडी पर सोलर सबमर्सिबल लगाने की योजना है। हालांकि, अब विभाग की नई योजना से किसानों के लिए सूक्ष्म ¨सचाई यंत्र लगाने भी अनिवार्य हो जाएंगे।

अंतिम तिथि को आगे सरकाने पर बढ़े आवेदन | Submersible Pump Bihar 2022 postpone expiry Date

डीआरडीए एवं एडीसी कार्यालय की अक्षय ऊर्जा शाखा में परियोजना अधिकारी अतुल मोहिल के मुताबिक करीब 99 सोलर सबमर्सिबल पंप दिए जाने हैं। सूक्ष्म सचाई विधि को बढ़ावा देने के लिए विभाग के प्रयास हैं। सचाई की सूक्ष्म विधि तकनीक अपनाने वाले किसानों को फायदा होगा।

बिहार सरकारी योजना 2022 सरकारी योजना List 2022 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here