How To Start NEET Preparation 2023 नीट की तैयारी कैसे शुरू करे

    0
    16
    नीट 2023 की तैयारी कैसे शुरू करे
    नीट की तैयारी कैसे शुरू करे

    NEET यानि की राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (एनईईटी-यूजी) पूरे भारत में सबसे सम्मानित सरकारी संस्थानों में स्नातक एम बी बी एस और बी डी एस, आयुष, बीएससी नर्सिंग और अन्य चिकित्सा पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्राप्त करने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित एक प्रतियोगी परीक्षा है। जिसमे मेडिकल साइंस में करियर बनाने के लिए छात्र NEET परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं लगभग 15 से 18 लाख छात्र हर साल  NEET में शामिल होते हैं, लेकिन कुछ ही छात्र नीट में अच्छे उच्च अंक प्राप्त करते हैं। अगर किसी छात्र के परीक्षा से संबंधित सभी कांसेप्ट  क्लियर है और छात्र के पास एक अच्छी रणनीति है तो वो परीक्षा में अच्छे अंक ला सकता है किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने से पहले, उम्मीदवारों को परीक्षा के बारे में पता होना चाहिए, यहां पर आप NEET परीक्षा से सम्बंधित विवरण देख सकते है जो आपको परीक्षा की तैयारी में मदद करेंग।

    NEET 2023 Age Criteria AND Educational Qualification नीट के लिए आयु सीमा और शैक्षिक योग्यता

    राज्य कोटा सीटों और अखिल भारतीय कोटा सीटों के लिए NEET-UG के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 17 वर्ष है 9 मार्च, 2022 को NEET पात्रता मानदंड के लिए अधिकतम आयु सीमा को हटा दिया गया है इससे पहले NEET की ऊपरी आयु सीमा सामान्य वर्ग के लिए 25 वर्ष और आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 30 वर्ष थी। सामान्य वर्ग के म्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के साथ 10 + 2 या समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए ओबीसी/एससी/एसटी के लिए – 40%, पीडब्ल्यूडी – 45% अंक होना आवश्य्क है

    Study Plan for NEET 2023 नीट के लिए अध्ययन की योजना

    NEET के लिए अध्ययन की योजना में एडवांस तैयारी से बेहतर कोई रणनीति नहीं होत। एक सही समय सारिणी अध्ययन की रणनीति  में आपकी बहुत ज्यादा मदद कर सकती है जो छात्र NEET की तैयारी कर रहे है उनको अपनी एक साल की समय सारिणी बनानी चाहिए और इस समय सारिणी के हिसाब से ही अपने पाठ्यक्रम की तैयारी करनी चाहिए फिर आप अपनी एक दैनिक समय सारिणी बनाइये जिसमे आपकी पूरी दिनचर्या जैसा की आप अपना दिन कैसे व्यतीत करने जा रहे हैं और कितने समय किस विषय को दे रहे है। एक अच्छी और अनुकूलित समय सारिणी आपको अपने कमजोर विषयो पर काम करने और NEET मॉक टेस्ट और मूल्यांकन के लिए समय देती है जिस से की आपकी तैयारी में गंभीरता और अनुशासन बना रहता है। आपको पूरी लगन से अध्ययन की दिनचर्या का पालन कर करना है जिस से की आपकी तैयारी अच्छी तरह से हो सके याद रखें कि यह एक लंबी दौड़ है और इसके लिए आपके पास एक अच्छी स्परिट और रणनीति होनी बहुत जरुरी है। सीमित सामग्री का अध्ययन करें बहुत सारे अलग-अलग स्रोतों से अध्ययन न करें इसके बजाय कुछ अच्छे स्रोतों को नियमित रूप से देखे NCERT आपके पाठ्य सामग्री में आवश्यक रूप से होनी चाहिए और इसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। प्रत्येक विषय के लिए एक एक अलग बुक निर्धारित करें और उसे समाप्त करने का प्रयास करें नियमित मॉक टेस्ट भी आपकी अच्छे अंक लाने में सहयता करेंगे इसलिए नियमित रूप से मॉक टेस्ट देते रहे और प्रत्येक मॉक टेस्ट का विश्लेषण करें जिस से की आप अपनी गलतियों और कमजोरियों को सुधर सके। फॉर्मूला बुक बनाए रखें: फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के हर चैप्टर के लिए एक पेज का नोट्स बनाए रखें ताकि परीक्षा से ठीक पहले पढ़ने में आसानी हो। अगर आप इस तरीके से नीट की तैयारी करते है तो आप निश्चित ही अच्छे अंक प्राप्त कर सकते है।यहां पर हम आपको कुछ आसान स्टेप बता रहे है जिनका पालन आप अपनी दैनिक दिनचर्या में कर सकते है और ये NEET की तैयारी में आपकी सहयता करेंगे

    • एक कैलेंडर और एक डायरी अपने पास रखें
    • अपनी प्राथमिकताएं निर्धारित करें की आपको पहले क्या पढ़ना है
    • अध्ययन का समय लंबा रखें ताकि आप अपना स्लेबस जल्दी खत्म कर सकें
    • अपनी सेहत का ख्याल रखें
    • पढ़ाई के समय न सोएं
    • पर्याप्त नींद ले जिस से की आपकी एकाग्रता बनी रहे

    NEET Paper Pattern नीट पेपर पैटर्न

    यदि छात्र अच्छी रैंक हासिल करना चाहते हैं तो NEET के परीक्षा पैटर्न को समझना महत्वपूर्ण है जैसे की  पेपर पैटर्न परीक्षा के तरीके, कुल प्रश्नों की संख्या और प्रश्नों के प्रकार, अंकन योजना आदि यंहा पर आप इन सब के बारे में जानकारी ले सकते है

    NEET  प्रश्न पत्र का मोड पेन और पेपर आधारित मोड
    परीक्षा की समय अवधि 3 घंटे 20 मिनट
    प्रश्न प्रकार बहु विकल्पीय प्रश्न
    नीट में पूछे जाने वाले प्रश्नों की कुल संख्या 200 प्रश्न, जिनमें से परीक्षार्थी को 180 प्रश्नों को हल करना होता है
    सेक्शन -वाइज प्रश्न भौतिकी  35+15

    रसायन विज्ञान  35+15

    वनस्पति विज्ञान  35+15

    जूलॉजी  35+15

    NEET में कुल अंक 720 अंक
    NEET अंकन प्रत्येक सही उत्तर के लिए 4 अंक दिए जाएंगे

    प्रत्येक गलत प्रयास के लिए 1 अंक काटा जाएगा

    अनुत्तरित प्रश्नों के लिए कोई अंक नहीं मिलेगा न ही कटेगा

    Right Study Material For NEET 2023 नीट के लिए सही पाठ्य सामग्री

    NEET  की तैयारी के लिए आपके पास सही पाठ्य सामग्री का होना आवश्यक है जिसके लिए आपकी पाठ्य सामग्री में NCERT मूल रूप से होनी चाहिए NEET की तैयारी के दौरान, पिछले वर्ष के प्रश्न अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है क्योकि  NEET की अपने आप में कोई किताब या सामग्री निर्धारित नहीं है इसलिए पिछले वर्ष के प्रश्न आपको आवश्यक रूप से देखने चाहिए और साथ ही साथ मॉक टेस्ट- नियमित मॉक टेस्ट देते रहे और उनका विश्लेषण करते रहे ताकि आप अपनी कमजोरियों और ताकत को आसानी से समझ सके और आगे की रणनीति तैयार कर सके।

    Subject-wise Preparation Strategy विषयवार तैयारी की रणनीति

    Biology बायोलॉजी  (Zoology and Botany)

    अधिकतर छात्र  बायोलॉजी में अधिक समय व्यतीत करते हैं और फिर अन्य विषयों में अच्छा स्कोर नहीं कर पते इसलिए सभी विषयो में संतुलन जरूरी है। बायोलॉजी की शुरुआत  NCERT से करे  आपको एनसीईआरटी का बार-बार रिवीजन करना चाहिए ताकि आपकी बायोलॉजी  में अच्छी पकड़ बानी रहे।

    Chemistry रसायन विज्ञान 

    रसायन विज्ञान अन्य विषयो की तुलना में एक अच्छा और आसान विषय है जिसमे की छात्र अच्छा स्कोर कर सकते हैं। कक्षा 11वीं और 12वीं की NCERT एनसीईआरटी की किताब परीक्षा की पाठ्य सामग्री के  लिए आवश्य्क है। ऑर्गेनिक केमिस्ट्री और इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री पर बराबर ध्यान दें क्योंकि इन से आप एक अच्छा स्कोर कर सकते है।भौतिक रसायन प्रश्न सूत्र-आधारित होते हैं इसलिए आपको सभी सूत्रों और प्रश्नों के प्रकार की जानकारी अच्छी तरह से होनी चाहिए  संख्यात्मक प्रश्नों को नियमित रूप से हल करें। Periodic Table अच्छी तरह से याद रखे और प्रत्येक अध्याय के लिए सटीक नोट्स बनाएं।

    Physics भौतिक विज्ञान

    इस विषय में अधिकांश छात्र अभ्यास की कमी के कारण कठिनाई का सामना करते है। छात्र  जीव विज्ञान और रसायन विज्ञान को ज्यादा समय देते हैं और भौतिकी का अध्ययन करने में विलंब करते हैं। हालांकि पिछले रुझानों में भौतिक विज्ञान की  रैंक प्राप्त करने में निर्णायक भूमिका रही है  यहां भी वही रणनीति काम करती है पहले NCERT  को अच्छी तरह पढ़ें और फिर किसी अन्य सामग्री को देखे। प्रॉब्लम साल्विंग के प्रश्नों में सबसे पहले सूत्र को समझ लेना चाहिए उसके बाद, समस्या को हल करते समय देखें कि क्या इकाइयों की एक समान प्रणाली या नहीं इसके लिए conversion rules का  प्रयोग करे । फ़ार्मुलों के लिए अलग-अलग नोट्स बनाए रखें और उन्हें नियमित रूप से दोहराते रहे।

    Common Mistakes That Candidates Should Avoid Auring Their NEET Preparation. कुछ सामान्य गलतियों जिनसे छात्रों को नीट की तैयारी के दौरान बचना चाहिए।

    • टाइम टेबल का पालन नहीं करना : ज्यादातर देखा गया है की छात्र परीक्षा की के लिए तैयार की गई टाइम टेबल का सख्ती से पालन नहीं करते जिस से की उनकी दैनिक दिनचर्या पर बुरा प्रभाव पड़ता है
    • व्यस्त कार्यक्रम : छात्रों को लंबे समय तक व्यस्त कार्यक्रम या अध्ययन नहीं करना चाहिए क्योंकि इस से उनके समझने की छमता प्रभावित हो सकती है और छात्र को थकान महसूस कर सकता है।
    • एनसीईआरटी को इग्नोर करना  : लगभग 70% प्रश्न एनसीईआरटी की पाठ्यपुस्तकों से आते हैं, इसलिए छात्रों को NCERT की पुस्तकों को  अनदेखा नहीं करनी चाहिए।
    • बहुत अधिक किताबो को एक समय में देखना : उम्मीदवारों को एक समय में कई पुस्तकों का अध्ययन करने से बचना चाहिए क्योंकि वे आपको भ्रमित कर सकती हैं और आपकी NEET की तैयारी प्रभावित हो सकती हैं।
    • विषयों की अनदेखी करना : जब NEET जैसी प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं की बात आती है, तो उम्मीदवारों को NEET पाठ्यक्रम के किसी भी विषय का एक भी पृष्ठ नहीं छोड़ना चाहिए और सभी विषयो को सामान रूप से नियमित पढ़ना चाहिए।

    ( FAQ) अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल

    प्रश्न: मैं सेल्फ स्टडी से नीट की तैयारी कैसे कर सकता हूं?

    उत्तर: सेल्फ स्टडी के द्वारा नीट की तैयारी के लिए काफी सेल्फ मोटिवेशन की आवश्यकता होती है। नीट की तैयारी एक कठिन काम नहीं है लेकिन  इसलिए व्यावहारिक टाइम टेबल बनाना बहुत आवश्यक है। साथ अपनी कमजोरी और अपनी गलतियों पे आवश्यक रूप से ध्यान देना चाहिए और उनको ठीक करना अति आवश्यक है एक अध्याय को समाप्त करने के बाद नोट्स बनाइये ताकि भविष्य में विषय को रेविसिन  करने में आपको  आसानी रहे ।

    प्रश्न -:  नीट की तैयारी कितने घंटे करनी चाहिए?

    उत्तर -:  विशेषज्ञों और टॉपर्स का सुझाव है कि हर दिन कम से कम 5-6 घंटे की ईमानदारी से की गई पढ़ाई नीट में एक अच्छा स्कोर हासिल करने में मददगार हो सकती है।

    प्रश्न  -: NEET के लिए अधिकतम आयु सीमा क्या है और कितने प्रयासों की अनुमति है?

    उत्तर -:  अच्छी खबर यह है कि NTA द्वारा अधिसूचित NEET  परिक्षा के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए कोई ऊपरी आयु सीमा नहीं है साथ ही, NEET  के लिए एक छात्र द्वारा किए जाने वाले प्रयासों की संख्या की कोई सीमा नहीं है। इसलिए, अगर आप इस साल नीट के लिए क्वालिफाई नहीं करते हैं तो उम्मीद मत छोड़िये आपके पास अभी भी अगले साल मौका है।

    प्रश्न  -:  नीट परीक्षा कौन आयोजित करता है?

    उत्तर -:  NTA (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) वर्ष 2019 से NEET परीक्षाओं के लिए नियामक संस्था है।

    प्रश्न  -:  यदि कक्षा 11 और 12 के बीच एक वर्ष का अंतर है तो क्या मैं नीट परीक्षा दे सकता हूँ?

    उत्तर -:   आप एक साल के अंतराल के साथ नीट परीक्षा दे सकते हैं एमसीआई द्वारा पहले किये गए संशोधन को दिल्ली उच्च न्यायालय ने रद्द कर दिया जिससे की अब एक वर्ष के अंतराल वाले उम्मीदवार भी नीट के परीक्षा दे सकते हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here