नेशनल आयुष मिशन 2021 | National AYUSH Mission 2021

0
1158
National AYUSH Mission
National AYUSH Mission

जाने क्या है नेशनल आयुष मिशन 2021 (National AYUSH Mission 2021) और आप कैसे उठा सकते है इसका लाभ

नेशनल आयुष मिशन योजना की शुरुआत 12वीं पंचवर्षीय योजना के तहत की गई। स्वास्थ्य और कल्याण मंत्रालय की निगरानी में शुरू हुई नेशनल आयुष मिशन को लागू करने और ठीक तरह से संचालित करने की जिम्मेदारी आयुष विभाग को सौंपी गई। योजना का मकसद आयुष चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देना है। आयुष चिकित्सा पद्धतिओं को किफायती आयुष सेवाओं, आयुष शैक्षणिक प्रणालियों को मजबूत करके आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी और होम्योपैथी दवाओं की उपलब्धी के जरिए बढ़ावा दिया जाएगा। नेशनल आयुष मिशन की दिशा निर्देशों के अंतर्गत आयुष प्रोग्राम को कार्यन्वित करने की नम्यता की कल्पना की गयी है जिससे केंद्र, राज्य एवं यूनियन टेरिटरी पर्याप्त भागीदारी प्राप्त हो सके। दिशा निर्देशों के जरिये डिपार्टमेंट की योजना लागू करने के आयोजन, निगरानी एवं सुपरवाइज़ करना सरल हो जाएगा। किफायती आयुष सेवाए प्रदान करने एवं सार्वभौमिक पहुंच के लिए आयुष हॉस्पिटल एवं दवाओं को अपग्रेड किया जाएगा। आयुष सुविधाओं को प्राइमरी हेल्थ सेंटर, कम्युनिटी हेल्थ सेंटर एवं जिला हेल्थ सेंटर तक पहुंचाया जाएगा। औषधीय पौधो की खेती को अच्छी कृषि पद्धतिओ को अपनाके सपोर्ट प्रदान किया जाएगा। जिससे नेशनल आयुष योजना के लिए अच्छी क्वालिटी का रॉ मटेरियल प्रदान किया जाएगा। अच्छे प्रमाण अंक प्राप्त करने के लिए अच्छी कृषि, कृषि पेदाश संग्रह समर्थन करेंगे।

नेशनल आयुष मिशन 2021 के उद्देश्य | National AYUSH Mission 2021: Objectives

  1. नेशनल आयुष मिशन के तहत अस्पतालों और औषधालयों के उन्नयन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और जिला अस्पतालों में आयुष सुविधाओं की सह स्थापना दवारा सार्वभौमिक पहुंच सहित लागत प्रभावी आयुष सेवाएं प्रदान करना।
  2. नेशनल आयुष मिशन के तहत आयुष शैक्षणिक संस्थानों, राज्य सरकार की एएसयू एवं एच भेषजियों, औषध परीक्षण प्रयोगशालाओं और एएसयू एवं एच प्रवर्तन तंत्र के उन्नयन के माध्यम से राज्य स्तर पर संस्थागत क्षमता सुदृढ़ करना।
  3. उत्तम कृषि पद्धतियों को अपनाकर औषधीय पादपों की कृषि में सहायता प्रदान करना ताकि गुणवत्तायुक्त कच्ची सामग्री की सतत आपूर्ति हो और गुणवत्तायुक्त मानकों, उत्तम कृषि/संग्रहण/भंडारण पद्धतियों के लिए प्रमाणन तंत्र का समर्थन करना।
  4. नेशनल आयुष मिशन के तहत खेती, भांडागारण, मूल्य संवर्धन और विपणन के अभिसरण द्वारा समूहों की स्थापना में सहायता और उदयमियों के लिए अवसंरचना का विकास।

नेशनल आयुष मिशन 2021 के अंतर्गत सहायक सुविधाएं | National AYUSH Mission 2021: Facilities

  1. नेशनल आयुष मिशन के अंतर्गत केंद्रीय और राज्य दोनों स्तरों पर आयुष अवसंरचना को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से कार्यक्रम प्रबंधन एकांशों की स्थापना के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। पीएमयू में केंद्रीय और राज्य दोनों स्तर के प्रबंधळन और तकनीकी व्यावसायिक शामिल होंगे और यह अनिवार्यता संविदा अथवा सेवा प्रदाता के माध्यम से होगी।
  2. पीएमयू स्टॉफ संविदात्मक आधार पर खुले बाजार अथवा बाहय संसाधनों से संलग्न किया जाएगा और उनके वेतन पर व्यय, मिशन अवधि के लिए स्वीकार्य प्रशासनिक और प्रबंधकीय लागत में से पूरा किया जाएगा। यह पीएमयू एमबीए, सनद-लेखाकार, लेखा और तकनीकी विशेषज्ञ आदि जैसे कुशल व्यावसायिकों के अपने समूह के माध्यम से राज्य में राष्ट्रीय आयुष मिशन के क्रियान्वयन में तकनीकी सहायता प्रदान करेगा। सभी नियुक्तियां संविदात्मक आधार पर होंगी और केंद्रीय सरकार का दायित्व मिशन अवधि के लिए वेतन शीर्ष पर प्रशासनिक और प्रबंधन लागत के लिए स्वीकार्य केंद्रीय योगदान तक ही सीमित होगा।

नेशनल आयुष मिशन निदेशालय

नेशनल आयुष मिशन के तहत किसि भी एक्सपर्ट द्वारा दी गयी मंजूरी चेयरपर्सन के अप्रूवल के बिना योग्य नहीं मानी जाएगी। किसी भी मूल्यांकन समिति द्वारा सिफारिश किये गए और राज्य प्रोजेक्ट्स के अप्रूव करने के लिए नेशनल आयुष मिशन डायरेक्टरेट जिम्मेदार माना जाएगा। नेशनल आयुष मिशन डायरेक्टरेट में 1 चेयरपर्सन, 8 मेंबर और 1 मेंबर सेक्रेटरी रहेगा।

नेशनल आयुष मिशन मूल्यांकन समिति

अप्रैज़ल कमिटी किसी भी स्टेट लेवल के प्रोजेक्ट्स का मूल्याँकन करने के बाद यह मूल्याँकन गवर्निंग बॉडी को यानि की नेशनल लेवल डायरेक्टरेट समिति द्वारा भी प्रदान किया जाते है।

राज्य आयुष मिशन सोसायटी

राज्य स्तर पर राज्य आयुष मिशन सोसायटी द्वारा आयुष मिशन को ऐवोलुअशन किया जाएगा। यह समिति आयुष सेवाओं का अवलोकन करना, आयुष नीतिओ को  रिव्यु करना, प्रोग्राम का इम्प्लीमेंटेशन, आंतर सेक्टोरल को-ऑर्डिनेशन, आयुष योजना को प्रोमोट करने के लिए एडवोकेसी मापदंड एवं राज्य के वार्षिक  प्रोजेक्ट्स के लिए मंजूरी प्रदान करना।

कार्यकारी निकाय की संरचना

नेशनल आयुष मिशन के द्वारा राज्य के वार्षिक प्रोजेक्ट्स को इम्प्लीमेंट करने के लिए डिटेल्ड खर्चा, एवं अधिक  डिटेल्स के साथ प्रोजेक्ट को अप्रूव करवाने के लिए तैयारी करना और अप्रूव राज्य के वार्षिक प्रोजेक्ट्स को एक्सेक्यूट करना है।

नेशनल आयुष मिशन द्वारा लोगों को किया जाएगा जागरूक

नेशनल आयुष मिशन योजना के तहत लोगों को जागरूक भी किया जाएगा। साथ ही नेशनल आयुष मिशन योजना के द्वारा शहर से लेकर कज्बों और गांव तक जगह-जगह कैंप लगाया जाएगा। कैंप में लोगों को बताया जाएगा कि योग के जरिए किन बीमारियों से दूर रहा जा सकता है। इसके अलावा अगर बीमारी आ गई तो उन्हें दूर करने या फिर आगे ज्यादा नुकसान न हो, इसके बारे में भी बताया जाएगा।

सरकारी योजना List 2021 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2021

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here