मेक इन इंडिया का तीसरा स्तम्भ | मेक इन इंडिया 2022 निर्माण के नए क्षेत्र | Make in India New Project 2022

0
994
Make in India New Project 3 Pillar
Make in India New Project 3 Pillar

21वीं सदी में औद्योगिक क्षेत्रों में कई सारे बदलाव आए हैं। निर्माण के क्षेत्र में कई ऐसे उद्योग भी स्थापित हुए हैं, जिनकी पहले कभी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी। आधुनिक समय में डिजिटलाइजेशन के बढ़ते चलन के मद्देनजर बहुत ही अत्याधुनिक उद्योग तथा बिजनेस स्थापित किए गए हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ऐसे उद्योगों का बोलबाला है, जो पुराने तरीकों से हटकर कुछ नया निर्माण कर रहे हैं; जैसे कि रोबोटिक, साइबर से जुड़े हुए क्षेत्र, बायो टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए उद्योग, सूक्ष्म विज्ञान के नए निर्माण क्षेत्र, रक्षा निर्माण क्षेत्र तथा आईटी से संबंधित उद्योग; यह कुछ ऐसे उदाहरण हैं जो इस बात की ओर संकेत करते हैं कि औद्योगिक क्षेत्रों में बहुत ज्यादा बदलाव आ गए हैं और यदि किसी देश को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आगे बढ़ना है तो उस देश में इस तरह के नए उद्योग क्षेत्र होना आवश्यक है।

इस बात को ध्यान में रखते हुए मेक इन इंडिया के तीसरे स्तम्भ मेक इन इंडिया 2022 निर्माण के नए क्षेत्र | Make in India New Project की शुरुआत की गई है। इस प्रोग्राम के तहत पुराने उद्योगों के साथ-साथ नए औद्योगिक क्षेत्रों को भी देश में शुरू किया जाएगा। विशेष करके नौजवानों को इन क्षेत्रों के साथ जोड़ने का कार्य किया जाएगा और इस कार्य की पूर्ति हेतु नौजवान लड़के-लड़कियों को प्रशिक्षण भी प्रदान किए जाएंगे ताकि वह नए दौर के अत्याधुनिक औद्योगिक क्षेत्र काम करने के क्षेत्र में काम करने के लिए प्रेरित हो सकें।

इस प्रोग्राम के अंतर्गत कारोबारियों को निर्माण के नए क्षेत्र उपलब्ध करवाए जाएंगे, उन्हें नए औद्योगिक क्षेत्रों के साथ जोड़ने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर की औद्योगिक जानकारी भी प्रदान की जाएगी। इससे ना केवल औद्योगिक अर्थव्यवस्था पर प्रभाव पड़ेंगे बल्कि नौजवान युवा लड़के लड़कियों को भी कुछ नया सोचने का, कुछ नए सेक्टर में काम करने के अनुभव प्राप्त होंगे।

मेक इन इंडिया 2022 निर्माण के नए क्षेत्र | Make in India 2022 New Project के अंतर्गत किए जाने वाले कार्य

  • नई तकनीक
  • पुरानी उद्योगों का बदल
  • नए प्रोजेक्ट
  • प्रशिक्षण केंद्र
  • नए प्रोजेक्टों में रोजगार के अवसर

इन सब का विस्तृत वर्णन निम्नलिखित प्रकार है :-

नई तकनीक | New Technology

देश के अंदर जितने भी पुरातन जितने भी उद्योग चल रहे हैं, उन सब उद्योगों को नई तकनीक के साथ जोड़कर सोशलाइज करने का प्रयास किया जाएगा। जैसे आजकल सब कुछ सोशल मीडिया पर उपलब्ध है, वैसे ही उद्योगों को भी नई टेक्नोलॉजी के साथ जोड़कर डिजिटलाइजेशन अथवा आधुनिक यंत्रों से समग्र किया जाएगा। हर प्रकार के संभव यत्न किए जाएंगे की नई तकनीक हर छोटे-बड़े उद्योग पर लागू की जा सके और उद्योगों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर डालकर हर एक उद्योग लोगों तक पहुंचाई जा सके।

पुराने उद्योगों का बदलाव | Change in Old Industries

देश के अंदर पुराने उद्योग तो चलते ही रहेंगे परंतु नए क्षेत्रों की भी स्थापना की जाएगी। कम लागत में आधुनिक उद्योग स्थापित करने के लिए भारत सरकार लोगों की मदद करेगी। जो लोग नए बिजनेस या पुराने उद्योगों से हटकर कुछ नया उद्योग स्थापित करने का रिस्क उठाएंगे, उन लोगों की मदद भारत सरकार द्वारा की जाएगी। पुराने उद्योगों का बदल भी लाने के निरंतर यत्न किए जाएंगे। जो लोग भी नए प्रोजेक्ट लेकर आएंगे और देश के अंदर स्थापित करने के लिए मेक इन इंडिया के तहत भारत सरकार से आग्रह करेंगे, सबके प्रोजेक्ट पर भारत सरकार द्वारा विचार किया जाएगा और यदि उन्हें नए प्रोजेक्ट पसंद आ जाते हैं तो भारत सरकार की तरफ से मेक इन इंडिया अभियान के अंतर्गत उन उद्योगों को स्थापित किया जाएगा।

प्रशिक्षण केंद्र | Institution

नए प्रोजेक्टों पर काम करने के लिए युवाओं को ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी। ऐसे कई प्रशिक्षण केंद्र खोले जाएंगे, जहां पर राष्ट्रीय स्तर पर चलने वाले उद्योगों की जानकारी तथा काम करने की प्रक्रिया एवं स्वरोजगार के लिए क्या कदम उठाने हैं यह सब भी प्रशिक्षण केंद्रों में सिखाया जाएगा। युवाओं को नई सोच, नई तकनीक और नए प्रोजेक्ट सोचने के लिए तैयार किया जाएगा।

नए प्रोजेक्टों में रोजगार के अवसर | Job Opportunities in New Projects

जो भी नए प्रोजेक्ट भारत सरकार द्वारा स्थापित किए जाएंगे, उन सब बिजनेस प्रोजेक्टओं में बेरोजगारों को रोजगार के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे, जिससे लोगों की आर्थिक व्यवस्था भी मजबूत होगी और नए प्रोजेक्ट भी अच्छे से चल पाएंगे। नए प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए भारत सरकार द्वारा आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी और नौजवानों को नए प्रोजेक्ट में काम करने के लिए प्रेरित करने के हर संभव यत्न किए जाएंगे।

मेक इन इंडिया के इस तीसरे स्थान मेक इन इंडिया 2022 निर्माण के नए क्षेत्र | Make in India New Project के तहत निर्माण के ऐसे क्षेत्र देश में शुरू किए जाएंगे, जो पहले कभी देश में नहीं लगाए गए थे। उन नए क्षेत्रों में युवाओं को काम करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इससे देश में काम के साधन बढ़ेंगे, लोगों को काम मिलेगा और विकसित देशों की तरह भारत में भी निर्माण के नए क्षेत्र लागू हो जाने से देश की अर्थव्यवस्था, समाजिक दशा में भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगे।

सरकारी योजना List 2022 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here