Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022 महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022

0
1600
Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2021
Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2021

लड़कियों / किशोरियों को शारीरिक और मानसिक तौर पर शक्तिशाली बनाने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने किशोरी शक्ति योजना का आगाज किया। इस योजना के अंतर्गत लड़कियों को शारीरिक, मानसिक, सामाजिक अनुभव का ज्ञान प्रदान करके उन्हें उनकी निर्णय निर्माण तथा फैसले लेने की क्षमता को बढ़ाया जाएगा। लड़कियों को पोषण, सफाई, देखभाल संबंधी जागरूक किया जाएगा।

योजना को ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से चलाया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों की लड़कियों तथा स्कूल छोड़ चुकी कन्याओं को स्थानीय आंगनवाड़ी केंद्रों से शिक्षण एवं प्रशिक्षण उपलब्ध करवाया जाएगा।

किशोरी शक्ति योजना केंद्र सरकार द्वारा कार्यकृत एक योजना है। इस योजना को महाराष्ट्र में भी चलाया जा रहा है। इस योजना के तहत महाराष्ट्र में 11 से 14 साल की लड़कियों को सशक्त बनाने हेतु आंगनबाड़ी केंद्रों द्वारा उन्हें प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला अधिकारियों द्वारा सर्वे किया जाएगा और स्कूल छोड़ चुकी लड़कियों को भी जागरूक तथा सशक्त करें करने का कार्यक्रम आरंभ किया जाएगा।

महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022 उद्देश्य (Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022: Objectives)

किशोरी शक्ति योजना का उद्देश्य यही है कि लड़कियों को उचित खान-पीन, उनके स्वास्थ्य, स्वच्छता, शिक्षा, हुनर, प्रशिक्षण और सामाजिक रूप से उन्हें जागरूक किया जाए और उन्हें अपने निर्णय खुद लेने योग्य बनाया जाए। लड़कियां अपने पैरों पर खड़ी हो पाए। इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को राज्य में लागू किया गया है।

महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022 पर तय किया गया बजट (Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022: Budget)

भारत सरकार द्वारा हर साल इस योजना के लिए 3.8 लाख रुपए जारी किए जाएंगे। यह राशि आंगनवाड़ी केंद्रों में “जीवन कौशल शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा, सूचना शिक्षा एवं संचार, स्वास्थ्य कार्ड तथा रेफरल जैसी सुविधाओं में खर्च की जाएगी। इसके अलावा हर एक लाभार्थी पर 300 दिनों हर रोज ₹5 प्रतिदिन की दर से पोषण प्रदान किया जाएगा।

महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022 के लाभ (Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022: Benefits)

  • इस योजना के अंतर्गत 11 से 14 वर्ष तक स्कूल ना जाने वालीलड़कियों को शिक्षा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • गरीब परिवार की लड़कियों को प्रभावी ढंग से कौशल प्रशिक्षण उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • लड़कियों को शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता, सामाजिक अथवा भावनात्मक, मानसिक रूप से मजबूत बनाने हेतु हर प्रकार की सहायता प्रदान की जाएगी।
  • उन्हें 1 वर्ष में 300 दिनों के लिए 600 गैलरी, 18 से 20 ग्राम प्रोटीन और अन्य पोषक तत्व प्रदान किए जाएंगे ताकि वह शारीरिक रूप से मजबूत होसकें।
  • आत्मनिर्भर बनाने के लिए कन्याओं पर सालाना 1 लाख तक का खर्च किया जाएगा।
  • लड़कियों को व्यवसायिक कौशल भी उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि वह अपना व्यवसाय शुरू करने लायक बनसके।
  • पढ़ाई छोड़ चुकी लड़कियों को औपचारिक तथा अनौपचारिक शिक्षा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • लड़कियों कोउनके भविष्य के लिए उचित मार्गदर्शन प्रदान किया जाएगा।
  • गृह प्रबंधन पर भी लड़कियों को परामर्श और मार्गदर्शन उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • प्रत्येक किशोरी लड़की के लिए किशोरी कार्ड तैयार किया जाएगा, जिसके अंतर्गत आने वाली योजनाओं का लाभ लड़कियां उठा पाएंगी।
  • लड़कियों के मनोबल को बढ़ावामिलेगा और वह किसी पर भी निर्भर नहीं रहेंगी।
  • अच्छी तरह खाना पकाना एवं खाने की अच्छी आदतें, मासिक धर्म के दौरान देखरेख आदि की जानकारी भी लड़कियों को दी जाएगी।
  • रोजमर्रा की जिंदगी की जरूरत एवं चुनौतियों का सामना करने के लिए लड़कियों को सक्षम बनाया जाएगा।
  • आत्मसम्मान, आत्मज्ञान, आत्मविश्वास, स्वयं निर्णय लेने की क्षमता तथा उनके मनोबल का विकास जैसी मानसिक पद्धतियां लड़कियों को सिखाई जाएंगी।
  • 16 से 18 वर्ष से अधिक पढ़ाई छोड़ चुकी कन्याओं को 18 वर्ष की आयु के बाद स्वरोजगार के लिए तैयार किया जाएगा।
  • लड़कियों को प्रशिक्षण दिलवाने का प्रबंध किया जाएगा ताकि वह अपनी आजीविका के लिए किसी पर निर्भर ना रहें।
  • लड़कियों के लिए स्वास्थ्य कार्ड आंगनबाड़ी केंद्रों में बनाए जाएंगे। इस कार्ड में लंबाई, वजन, बॉडी मास आदि का रिकॉर्ड रखा जाएगा।
  • किशोरियों को खेलकूद, कैरियर संबंधी फैसले लेने की योग्यता तथा योग भी सिखाया जाएगा।

महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022 के लिए तय किए गए दिशा निर्देश (Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022: Guidelines)

  • इस योजना के अंतर्गत केवल गरीबी रेखा से नीचे रहने वाली कन्याओं को ही लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • 11 से 14 वर्ष के बीच की लड़कियों को शिक्षा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • आंगनबाड़ी केंद्र इस योजनाको सुचारू रूप से चलाएंगे।
  • 16 से 18 वर्ष के बीच की लड़कियों को व्यवसाय कौशल प्रदान किया जाएगा।
  • हर 3 महीने में कम से कम एक बार स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा किशोरियों की सामान्य जांच की जाएगी।

 आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • लड़की का जन्म प्रमाण पत्र
  • बीपीएल कार्ड
  • स्कूल के सर्टिफिकेट
  • स्कूल छोड़ने का सर्टिफिकेट
  • जातीय प्रमाण पत्र

महाराष्ट्र किशोरी शक्ति योजना 2022 पंजीकरण प्रक्रिया (Maharashtra Kishori Shakti Yojana 2022: Registration Process)

  • इस योजना के लिए किसी भी प्रकार की पंजीकरण प्रक्रिया उपलब्ध नहीं करवाई गई है।राज्य के आंगनवाड़ी केंद्रों के अधिकारी घर-घर जाकर सर्वे करते हैं और उसी सर्वे के आधार पर कन्याओं का चयन किया जाता है।
  • अधिकारियों द्वारा जिन भी कन्याओं का चयन कर लिया जाता है, उन कन्याओं को इस योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जाता है।
  • चुनी गई कन्याओं को किशोरी कार्ड प्रदान किए जाते हैं। कार्ड का इस्तेमाल करके किशोरिया लाभ प्राप्त कर सकती हैं।

केंद्र सरकार द्वारा गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवार की बच्चियों को सही शिक्षा दिलवाने, उनकी शारीरिक, मानसिक रूप से सहायता करने के लिए यह जो कदम उठाया गया है; बहुत ही सराहनीय कदम है। गरीब परिवार की लड़कियों का मनोबल बढ़ेगा और वह सशक्त बन जाएंगी। अपने निर्णय खुद लेने योग्य हो जाएंगी।

महाराष्ट्र सरकारी योजना 2022 सरकारी योजना List 2022 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here