Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022| मध्य प्रदेश कन्यादान योजना

0
2193
Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022
Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022)

आर्थिक तंगी से जूझ रहे तथा निम्न वर्ग से संबंधित परिवार जिनके पास अपनी लड़कियों की शादी करवाने के लिए भी पैसे नहीं हैं और वह शादी के खर्चे करने योग्य नहीं है। उन लोगों की बेटियों की शादी के समय परिवार को सहायता राशि प्रदान करने हेतु मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कन्यादान योजना की शुरुआत की गई।

इस योजना के अंतर्गत बेटियों की शादी के वक्त कन्याओं को सहायता राशि प्रदान की जाएगी। जो भी परिवार शादी के लिए सक्षम नहीं है, उन परिवारों की मदद राज्य सरकार इस योजना के तहत करेगी। यह योजना राज्य सरकार द्वारा बनाई गई योजना है इसलिए इस योजना पर जो बजट तैयार किया गया है, वह बजट भी राज्य सरकार द्वारा ही जारी किया गया है।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश का उद्देश्य (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022: Objectives)

गरीब परिवार जो आर्थिक तंगी की वजह से अपनी लड़कियों की शादी नहीं करवा पा रहे, उन परिवारों को सहायता राशि प्रदान करके राज्य सरकार उनकी मदद करना चाहती है। इसीलिए इस योजना का शुभारंभ किया गया है। परिवारों की सहायता हो जाए और कन्याओं को भी सहायता राशि प्राप्त हो जाए, इसी धारणा के तहत योजना राज्य में लागू की गई है।

ज्यादातर गरीब लोग कन्या भ्रूण हत्या इसलिए करते हैं क्योंकि वे लोग जागरुक नहीं होते और हमेशा यही सोचते हैं कि लड़की की शादी समय सारा प्रबंध कैसे करेंगे। इस योजना के लागू होने से लोगों की सोच बदलेगी और इस और वह निश्चिंत होकर अपनी लड़कियां की शादी बिना किसी रूकावट के कर पाएंगे।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश की घोषणा (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana: Declared)

कन्यादान योजना की घोषणा सन 2019 में मध्यप्रदेश में की गई थी, जो आज भी निरंतर जारी है। इस योजना की घोषणा राज्य के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी द्वारा की गई थी। घोषणा करते वक्त उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया था कि गरीबी रेखा से नीचे गुजर-बसर करने वाले परिवारों की कन्याओं की शादी का खर्चा राज्य सरकार पूरा करेगी और बेटियों को सहायता राशि प्रदान करेगी।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश के तहत दी जाने वाली सहायता राशि (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana 2022: Amounts)

विवाह की सामग्री पर होने वाला खर्च

इस योजना के तहत कन्या की शादी में लगने वाली सामग्री को खरीदने के लिए ₹5000 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। ताकि समान पर होने वाले खर्च की वजह से गरीब परिवारों को शादी के समय किसी प्रकार की रुकावट ना आए।

सामूहिक विवाह

यदि लड़की की शादी सामूहिक विवाह आयोजित करने वाली संस्था द्वारा की जा रही है, तब पंजीकृत प्रत्येक कन्या को ₹3000 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

अतिरिक्त खर्च

शादी के ऊपर आने वाले अतिरिक्त खर्च तथा लड़की को ₹43000 की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। यह सारी राशि कन्या के नाम पर ही मिलेगी।

कुल सहायता राशि

इस योजना के तहत पंजीकरण करवाने वाली कन्या की शादी के समय कुल ₹51000 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश के लाभ (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana: Benefits)

बीपीएल परिवार की कन्याओं को लाभ

इस योजना के तहत बीपीएल कार्डधारक परिवार की कन्याओं को शादी के समय सहायता राशि प्रदान की जाएगी ताकि परिवार को शादी के समय किसी भी प्रकार की रुकावट पेश ना आए और सारा आयोजन सकुशल पूर्ण हो जाए। गरीब परिवार भी कन्याओं की शादी में सक्षम हो पाएंगे।

डिमांड ड्राफ्ट तथा चेक

इस योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि कन्या के नाम पर ही मिलेगी। यह राशि या तो चैत के रूप में या फिर डिमांड ड्राफ्ट के रूप में लड़कियों को प्रदान की जाएगी।

डायरेक्ट बैंक में

इस योजना के तहत आवेदन करने वाली कन्या के बैंक खाते में डायरेक्ट सहायता राशि ट्रांसफर करने की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है। इसलिए किसी को भी यह चिंता करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी कि उनको मिलने वाली राशि के लिए उन्हें विभाग के चक्कर काटने पड़ेंगे क्योंकि नाम दर्ज करवाने वाली लड़कियों को शादी के समय मिलने वाली राशि सरकार द्वारा डायरेक्ट उनके बैंक खाते में पहुंचाई जाएगी।

विधवा / तलाकशुदा

विधवा या तलाकशुदा महिला इस योजना के तहत आवेदन करती है, तो उस महिला को भी पुनर विवाह के समय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

लोगों की मानसिकता में बदलाव

जो लोग लड़कियों को बोझ समझते हैं और हमेशा यही सोचते हैं कि उनकी शादी के लिए कौन इतना खर्च करेगा। यही सोचते हुए वह लड़कियों को पैदा होने से पहले ही खत्म कर देते हैं। इस योजना के शुरू होने से ऐसे लोगों की मानसिकता में बदलाव आएगा, लोग जागरूक हो जाएंगे क्योंकि उन्हें यह समझ में आ जाएगा की लड़कियों की शादी के लिए सरकार खुद सहायता प्रदान करती है, इसलिए वे लोग भी बिना किसी परेशानी के लड़कियों की शादी कर पाएंगे तथा उनकी सोच में बदलाव भी आएगा।

गरीब परिवार की सहायता

गरीब परिवार हमेशा अपनी लड़कियों की शादी के लिए शादी पर होने वाले खर्च को लेकर चिंतित रहते हैं परंतु इस योजना के लागू होने से उन परिवारों की चिंता खत्म हो जाएगी और वह निश्चिंत होकर अपनी लड़कियों की शादी कर पाएंगे। इस तरह गरीब लोगों की सहायता भी हो जाएगी और कन्याओं को भी लाभ पहुंचेगा।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश 2022 के तहत आवेदन करने के लिए जारी किए गए दिशा निर्देश (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana: Guidelines)

केवल मध्य प्रदेश निवासी

इस योजना के तहत वही लड़कियां आवेदन कर सकती हैं जो मध्यप्रदेश की मूल निवासी हैं। अन्य राज्य की लड़कियां इस योजना के तहत आवेदन नहीं कर सकती और ना ही कोई लाभ प्राप्त कर सकती हैं। इसलिए यह आवश्यक है कि वही लड़कियां इस योजना के तहत आवेदन करें जो मध्यप्रदेश की मूल निवासी हैं।

लड़की की आयु

इस योजना के तहत आवेदन करने वाली लड़की की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी आवश्यक है, तभी वह इस योजना के तहत आवेदन कर पाएंगी और जिस लड़के से उसकी शादी हो रही है उसकी उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए।

पुनर्विवाह

तलाकशुदा या विधवा महिलाएं जो पुनर्विवाह के लिए इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं, उनको यह सुनिश्चित करना होगा कि वह पुनर्विवाह के लिए सक्षम नहीं है। तब भी इस योजना के तहत उन महिलाओं को लाभ पहुंचाया जाएगा। जो महिलाएं कोई काम कर रही हैं और अपनी शादी के लिए सक्षम है, उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करने की अनुमति नहीं है।

समग्र पोर्टल

जो भी लड़कियां इस योजना के तहत आवेदन करना चाहती हैं, उन सभी लड़कियों का नाम समग्र पोर्टल में दर्ज होना अनिवार्य है। तभी वह इस योजना के लिए आवेदन कर पाएंगी। यदि कन्या का नाम समग्र पोर्टल में दर्ज नहीं है, तो उसे पहले समग्र पोर्टल में अपना नाम दर्ज करवाना होगा क्योंकि आवेदन करते वक्त समग्र कोड भरना अनिवार्य होता है और समग्र कोड उसी लड़की के पास होता है जिस लड़की का नाम समग्र पोर्टल में दर्ज है। इसलिए यह आवश्यक है कि लड़की का नाम समग्र पोर्टल में दर्ज हो। यदि नाम दर्ज नहीं करवाती तो फिर से इस योजना के तहत आवेदन नहीं कर सकती।

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश आवश्यक दस्तावेज (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana : Required Documents)

  • आधार कार्ड
  • समग्र कोड
  • मूलनिवासी पहचान पत्र जैसे के वोटर आईडी, राशन कार्ड
  • परिवार के आमदनी से संबंधित दस्तावेज
  • बीपीएल कार्ड
  • एज प्रूफ
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

कन्यादान योजना मध्य प्रदेश रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Madhya Pradesh Kanyadan Yojana : Registration Process)

  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। सुविधानुसार किसी भी एक प्रक्रिया का चयन करके आवेदन किया जा सकता है।
  • इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट http://socialjustice.mp.gov.in/hi-IN/Chief-ministers-daughter-marriage-scheme पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात होम पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस होम पेज पर एक एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में सारी जानकारी जैसे कि नाम, आधार संख्या, समग्र संख्या, पता, मोबाइल नंबर आदि भरने के बाद कुछ डॉक्यूमेंट जैसे कि पासपोर्ट साइज फोटो, बीपीएल कार्ड आदि अपलोड करने होंगे।
  • डॉक्यूमेंटअपलोड करने के बाद सबमिट बटन दिखाई देगा।
  • सबमिट बटन को क्लिक करते ही एप्लीकेशन फॉर्म जमा हो जाएगा।
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म को जमा करते वक्त एक user-id तथा पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • यूजर आईडी और पासवर्ड को संभाल के रखना आवश्यक है।

लॉगइन प्रक्रिया

  • यूज़र को सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात यूजर राइट प्राप्त हुए यूजर आईडी और पासवर्ड भरना होगा।
  • यूज़र आईडी बनने के पश्चात कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद लॉगइन बटन दिखाई देगा, लॉगइन बटन को क्लिक करते ही लॉगइन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • लॉग इन करने के बाद एप्लीकेशन की सारी स्थिति को भी देखा जा सकता है।
  • एप्लीकेशन की स्थिति से ही पता चलेगा कि एप्लीकेशन को अप्रूवल मिल गया है या नहीं अर्थात यदि अप्रूवल मिल गया हुआ तो उस कन्या को सहायता राशि अवश्य मिलेगी।
  • परंतु जिस कन्या को अप्रूवल नहीं मिला उस कन्या को इस योजना के तहत लाभ नहीं मिलेगा।
  • इसलिए यह आवश्यक है कि आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन एप्लीकेशन की स्थिति को जांच करते रहना आवश्यक है।

ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

  • इस योजना के तहत ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए लड़की को सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात होम पेज पर एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद इसका प्रिंट आउट निकलवाना होगा।
  • उस प्रिंटआउट में सारी जानकारी जैसे कि नाम, आधार संख्या, समग्र संख्या, उम्र, पता, मोबाइल नंबर आदि भरने के बाद एप्लीकेशन के साथ कुछ डॉक्यूमेंट जैसे कि बीपीएल कार्ड की कॉपी, पासपोर्ट साइज फोटो आदि को अटैच करना होगा।
  • सारे डॉक्यूमेंट अटैच करने के बाद यदि लड़की ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित है, तो उसे ग्राम पंचायत जनपद पंचायत में इस एप्लीकेशन फॉर्म को जमा करवाना होगा।
  • यदि कन्या शहर से संबंधित है, तो उस कन्या को नगर निगम, नगर पालिका या नगर परिषद ऑफिस में जाकर एप्लीकेशन फॉर्म को जमा करवाना होगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म जमा होने के बाद विभागीय अधिकारियों द्वारा एक सूची तैयार की जाती है और उसी सूची के हिसाब से यह तय किया जाता है कि किस कन्या और उसके परिवार को लाभ पहुंचाया जाएगा।

संपर्क Contact Information

किसी भी प्रकार की समस्या पेश आए तो उस समस्या के हल के लिए टोल फ्री नंबर उपलब्ध करवाया गया है, इसका इस्तेमाल करके समस्या का हल प्राप्त किया जा सकता है।

सीएमहेल्पलाइन नंबर – 181

टोल फ्री नंबर – 1800 233 4397

1800 233 5956

हेल्प डेस्कसंकेत भोंडवे (आईएएस)

मिशन डायरेक्टर

डायरेक्टरेट ऑफ सोशल जस्टिस

सामाजिक न्याय संचालनालय

1250, तुलसी नगर (एमपी)

भोपाल (एमपी)

फोन नंबर – 0755-2556916

फैक्स नंबर – 2552665

योजना के तहत सहायता राशि मिलने से गरीब परिवारों को अपनी कन्याओं की शादी के समय बहुत सहायता हो जाएगी। उन लोगों को शादी के समय होने वाले खर्चे के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। बिना किसी परेशानी के वह अपनी लड़कियों की शादी कर पाएंगे तथा लड़कियों को भी किसी प्रकार की चिंता नहीं होगी। परिवारों को इस बात की संतुष्टि होगी कि राज्य सरकार खुद लड़कियों की शादी में सहायता कर रही है।

इसलिए सभी गरीब परिवार जिनके घरों में लड़कियां ब्याहने जो योग्य हैं, उन्हें जरूर अपनी लड़कियों का नाम इस योजना के तहत दर्ज करवाना चाहिए।

मध्य प्रदेश सरकारी योजना सरकारी योजना List प्रधानमंत्री सरकारी योजना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here