Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022 झारखंड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 आवेदन

0
1944
Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022
Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022

झारखण्ड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना के तहत 18 वर्ष तक की बालिकाओं को पढाई के अलावा अन्य जरूरतों के लिए समय-समय पर राज्य सरकार आर्थिक मदद प्रदान करेगी। सामाजिक, आर्थिक और जातीय जनगणना में पिछड़े हुए परिवार की बालिकाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा। झारखण्ड के करीब 27 लाख परिवारों की बालिकाओं को इसका लाभ मिलेगा। झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 24 जनवरी 2019 को इस योजना की शुरुआत की।

योजना का नाम झारखण्ड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना
मुख्यमंत्री रघुवर दास
घोषणा तिथि 24 जनवरी 2019
लाभार्थी 18 वर्ष तक की बालिकाएं
योजना के तहत मिलने वाली कुल राशि 40,000 ₹

 

झारखण्ड सुकन्या योजना के तहत बालिकाओं को मिलनेवाली विभिन्न चरण में लाभ :

 चरण लाभ
बालिका के जन्म के दो वर्ष तक 5000 ₹
पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर 5000 ₹
पांचवी पास कर छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर 5000 ₹
आठवीं कक्षा पास करने पर 5000 ₹
दसवीं कक्षा पास करने पर 5000 ₹
12वीं कक्षा पास करने पर 5000 ₹
कुल राशि 18 वर्ष तक 30000 ₹
अगर बेटी कीादी 18 वर्ष से 20 वर्ष तक नहीं हुई है तब 10000 ₹

 

इस तरह कुल मिलने वाली राशि 40000 ₹

 

झारखंड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 का उद्देश्य एवं लाभ (Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022: Objectives and Benefits)

  • इस योजना का उद्देश्य बालिकाओं के स्वास्थ्य और पोषण को बेहतर बनाने के साथ-साथ बालिका जन्मदर में वृद्धि करना है। ताकि लिंगानुपात को घटाया जा सके।
  • बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तर्ज पर लागू इस योजना में बेटियों को बाधारहित रेगुलर पढाई करवाना है।
  • मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का उद्देश्य बालिकाओं का संरक्षण करना है । बेटियों को बोझ समझकर उसकी शादी कम उम्र में कर देने की प्रवृति पर रोक लगाना और बाल विवाह प्रथा पर अंकुश लगाना है।
  • इस योजना में यूनिसेफ एवं कई सामाजिक संगठन का भी योगदान है। इस कार्यक्रम में ग्राम पंचायत को भी शामिल करने की योजना है। ताकि इसके प्रति जागरूकता को निचले स्तर तक फैलाया जा सके।
  • मुख्यमंत्री सुकन्या योजना के तहत मिलने वाली सभी राशि बालिका या उसके अविभावक के बैंक खाते में सीधा ट्रांसफर किया जायेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत लड़की के जन्म से 18 वर्ष तक चरण बद्ध तरीके से सरकार द्वारा आर्थिक सहायता दी जाती है। लड़की के पालन पोषण, प्राथमिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता सरकार के तरफ से की जाती है।
  • सरकार के एक अनुमान के अनुसार राज्य के करीब 36 लाख परिवार इस योजना से लाभान्वित होंगे।
  • प्रदेश 5 जिले ऐसे हैं जहाँ लड़कियोंकी शादी 18 वर्ष से पहले की जाती है। ये जिले हैं :- देवघर, गोड्डा, कोडरमा, गिरिडीह और पलामू। इन जिलों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा।

झारखंड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 के लिए पात्रता (Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022: Eligibility)

  • बालिका को झारखण्ड का निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए वही परिवार पात्र हैं जिनका नाम SECC-2011 के लिस्ट में है। वैसे परिबार की बालिकाएं जिनकी पारिवारिक आय 72 हजार सालाना से कम है। उन लड़कियों को इस योजना का लाभ मिलेगा। अबतक करीब 27 लाख परिवार की बेटियाँ इस जनगणना के मध्यम से झारखण्ड सुकन्या योजना का लाभ ले सकती हैं।
  • जिनके पास अंत्योदय कार्ड है वे भी इस योजना के पात्र हैं। जिसमे करीब 10 लाख लोगो को जुड़ने की आशा है।
  • इस योजना के तहत बालिका के जन्म से ही लाभ लिया जा सकता है। 18 वर्ष के बाद का लाभ तभी मिलेगा जब बालिका की शादी 20 वर्ष तक नहीं होती हो।
  • इस योजना के तहत मिलने वाली राशि सीधा लाभार्थी के बैंक खाते में जाता है अतः लाभार्थी के पास एक बैंक खाता होना चाहिए।
  • आपका बैंक का खाता आधार से लिंक होना भी बहुत जरुरी है, क्योंकि योजना राशि डीबीटी के द्वारा बैंक में ट्रांसफर होगी।

झारखंड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज (Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022: Required Documents)

  • झारखण्ड राज्य का आवासीय प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाणपत्र
  • बेटी का जन्म प्रमाणपत्र एवं आधार कार्ड
  • बैंक का पासबुक
  • पाठशाला जाने का प्रमाण पत्र

झारखंड मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 आवेदन कैसे और कहाँ करें (Jharkhand MukhyaMantri Sukanya Yojana 2022: How to Apply)

झारखण्ड सुकन्या योजना का लाभ लेने के लिए निकटतम आंगनवाड़ी केंद्र, प्रखंड विकास पदाधिकारी और जिला समाज कल्याण पदाधिकारी के कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here