Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022 मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022

0
1111
Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022
Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022

झारखंड सरकार ने अपने राज्य के किसानों की भलाई एवं उनकी समस्याओं के समाधान हेतु कुछ प्रोग्राम आरंभ किए। कृषि आधारित प्रोग्राम किसानों को अपनी समस्या के उचित हल प्रदान करने के लिए ही शुरू किये गए। इसी प्रकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद नामक योजना की घोषणा भी की गयी। वर्ष 2020 में झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास जी द्वारा इस योजना की घोषणा की गई।

इस योजना के अंतर्गत राज्य के छोटे और सीमांत किसानों को हर वर्ष वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। कम भूमि वाले किसानों को किश्तों के तौर पर राशि प्रदान की जाएगी। योजना के अंतर्गत जो भी वित्तीय सहायता किसानों को उपलब्ध करवाई जाएगी, वे सीधे ही उनके बैंक खाते में जमा करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022 का उद्देश्य (Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022: Objectives)

इस योजना के तहत झारखंड के छोटे एवं सीमांत किसान जिनके पास कम भूमि है। उन किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करके उन्हें लाभ पहुंचाना है। जिन किसानों का केवल खेती-बाड़ी से ही घर का खर्च चलता है, उन किसानों के मनोबल को बढ़ाने हेतु इस योजना का आवाहन किया गया है। किसानों की आमदनी को आने वाले 4 सालों में दुगना करना ही इस योजना का मकसद है।

योजना के लिए तय किया गया बजट

  • मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लिए 2250 करोड़ का बजट तय किया गया है।
  • 45 लाख एकड़ भूमि को इस योजना के अंतर्गत कवर किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के अंतर्गत 22 लाख 76 हजार किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022 के लाभ (Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022: Benefits)

  • इस योजना के अंतर्गत हर वर्ष खरीफ फसल के लिए किसानों के बैंक खाते में₹5000 जमा करवाए जाएंगे।
  • आर्थिक तौर पर बहुत ज्यादा कमजोर किसानों को ज्यादा से ज्यादा ₹25000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ किसानों को 4 सालों तक मिलेगा।
  • लाभार्थियों को 0% ब्याज दरों पर ऋण भी उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • किसानों की आर्थिक सहायता डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए की जाएगी अर्थातयोजना में नामांकित किसान की आर्थिक राशि सीधे ही उनके बैंक खाते में जमा करवा दी जाएगी।
  • इस योजना से एक लाभ यह भी होगा किकिसानों को अपना व्यवसाय छोड़कर किसी दूसरे व्यवसाय को अपनाने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि सरकार किसानों की सहायता कर रही है।
  • राज्य की अर्थव्यवस्था में भी वृद्धि होगी तथा कृषि रोजगार भी प्रफुल्लित होगा।
  • झारखंड राज्य में फसलों का उत्पादन बढ़ जाएगा, इसका सीधा फायदा किसानों और सरकार दोनों को होगा। 

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022 सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देश (Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022: Guidelines)

  • इस योजना का लाभ केवल झारखंड के मूल निवासी किसान हीउठा सकते हैं, अन्य राज्य के किसान इस योजना के अंतर्गत कोई भी सहायता प्राप्त नहीं कर सकते।
  • जिन किसानों के पास 5 एकड़ से कम जमीन है, उन्हीं को इस योजना का फायदा पहुंचाया जाएगा।5 एकड़ से ज्यादा जमीन वाले किसान इस योजना के लिए मान्य नहीं है।
  • प्रति एकड़ खरीफ फसल के लिए कम से कम ₹5000 और ज्यादा से ज्यादा ₹25000 की राशि स्किश्तों के रूप में किसानों के अकाउंट में जमा करवाई जाएगी।
  • किसानों की जमीन का पूरा रिकॉर्ड / भूमि स्वामित्व प्रणाली के अंतर्गत किसानों की जमीन की डिटेल लेकर ही उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत नामांकित किसानों को मिलने वाली राशि दो या दो से ज्यादा किश्तों के रूप में उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • योजना के तहत लाभ उठाने के लिए आवेदकका बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
  • जो किसान खेती के साथ-साथ अन्य व्यवसाय कर रहे हैं, उन किसानों को इस योजना के अंतर्गत लाभ नहीं पहुंचाया जाएगा।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022 आवश्यक दस्तावेज (Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022: Required Documents)

  • मूल निवासी पहचान पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक डिटेल, बैंक खाता नंबर
  • जमीन का ब्यौरा
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड 2022 आवेदन प्रक्रिया (Jharkhand Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2022: Registration Process)

इस योजना के अंतर्गत सभी जिलाधिकारियों द्वारा ऑनलाइन पोर्टल में डाटा अपडेट किया जाएगा। किसानों ने जो अपनी डिटेल जिला अधिकारी को दे रखी है, उसी जमीन की डिटेल के अनुसार योग्य किसानों का नाम सूची में दर्ज किया जाएगा। इसी सूची को देखकर किसानों को पता चल पाएगा कि वह इस योजना के अंतर्गत लाभ उठा सकते हैं या नहीं। यह चेक करने के लिए किसान झारखंड सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।

सूची में नाम चेक करने के लिए प्रक्रिया

  • यह चेक करने के लिए किसान झारखंड सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई आधिकारिक वेबसाइट https://mmkay.jharkhand.gov.in/ पर जाना होगा। इसके पश्चातसर्च ऑप्शन Beneficiary / Farmer के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के उपरांत जो पेज खुलेगा, उस पेज पर मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजनाका रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में मांगी गई सारी जानकारी जैसे कि आधार नंबर / अकाउंट नंबर और फिर डिस्ट्रिक्ट नेम आदि को चुनना होगा।
  • सारी जानकारी भरने के बाद सर्च बटन पर क्लिक करके मुख्यमंत्री किसान आशीर्वाद योजना लिस्ट के अंतर्गत किसान को अपना पूरा विवरण देखना होगा,यदि किसान का नाम जिला अधिकारियों द्वारा अपडेट की गई सूची में दिखाई देगा। तब यह सुनिश्चित हो जाएगा कि वह किसान इस योजना के अंतर्गत लाभ उठा सकता है। लाभार्थी  द्वारा अपने आवेदन की स्थिति (status) को चेक करने की भी सुविधा उपलब्ध की गई है।
  • यही स्टेप्स फॉलो करके लाभार्थी अपने द्वारा दिए गए आवेदन की स्थिति को चेक भी कर सकते हैं।
  • यदि किसानअपना बेनिफिशियरी अकाउंट लॉगइन करना चाहता है, तो उसकी सुविधा भी पोर्टल पर उपलब्ध की गई है।

लॉगइन प्रक्रिया

  • लॉगइन करने के लिए लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट https://mmkay.jharkhand.gov.in/ पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात होम पेज पर लॉगइन का ऑप्शन दिखाई देगा। इस ऑप्शन को क्लिक करने के बाद लॉगइन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस लॉगइन फॉर्म में लाभार्थी को जिले का नाम, अपनी अचल क नाम, उपभोक्ता नाम एवं शब्दकोश भरना होगा। सभी जानकारी भरने के बाद प्रवेश पर क्लिक करते ही लॉगिन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और किसान अपना बेनिफिशियरी अकाउंट ओपन कर पाएगा।
  • Beneficiary / Farmer अकाउंट केवल वही किसान लॉगिन कर पाएगा जिसका नाम सूची में दर्ज है।

कृषि आशीर्वाद योजना के लिए मोबाइल ऐप

  • मोबाइल पर भी लॉगइन जैसी सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए कृषि आशीर्वाद मोबाइल ऐप लांच की गई है। इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए किसानों को ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज खुलने के उपरांत डाउनलोड मोबाइल ऐप का ऑप्शन होगा। जिसको क्लिक करते ही मोबाइल में मोबाइल ऐप डाउनलोड हो जाएगी।
  • इस मोबाइल ऐप पर भी किसान अपने आवेदन की स्थिति को चेक कर सकते हैं, अपने अकाउंट को देख सकते हैं।

झारखंड सरकार द्वारा बनाई गई यह योजना झारखंड के किसानों को बहुत राहत पहुंचाएगी क्योंकि छोटे किसानों को 0% ब्याज पर ऋण देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनने का मौका प्रदान करेगी। इससे फायदा यह होगा कि किसान निश्चिंत होकर खेती कर पाएंगे। उन्हें यह चिंता नहीं होगी कि उन्हें ऋण के साथ-साथ अपना ब्याज भी चुकाना होगा। प्रति एकड़ मिलने वाली वित्तीय सहायता भी किसानों की आर्थिक तौर पर बहुत मदद करेगी, उनका कृषि पर भरोसा रहेगा और वह अपना काम पूरे मन से कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here