Jharkhand Bazar App 2022 झारखंड बाजार मोबाइल ऐप 2022 विवरण एवं डाउनलोड

0
955
Jharkhand Bazar app 2022
Jharkhand Bazar app 2022

कोविड-19 के दौरान समस्त भारत में लॉकडाउन किया गया था। इस दौरान कई राज्यों ने राशन मुहैया करने हेतु एप्लीकेशंस बनाई। इन एप्लीकेशंस का काम लोगों को घरों में ही राशन घर के रोजमर्रा सामान आदि को डिलीवर करना था। झारखंड राज्य में भी राज्य के नागरिकों की लॉकडाउन समस्याओं को समझते हुए झारखंड बाजार मोबाइल ऐप शुरू की गई। इस मोबाइल ऐप को शुरू करने का कारण यह था कि लोग कर्फ्यू में घर से बाहर ना निकले और उन्हें उनकी जरूरत का सामान घर पर ही पहुंचा दिया जाए। दुकानदारों को ग्राहकों के साथ मोबाइल ऐप के जरिए जोड़ा गया।

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप को 21 अप्रैल, 2020 में राज्य सरकार द्वारा लॉन्च किया गया। दुकानदार और ग्राहक दोनों को एक साथ जोड़ने के लिए ही इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जारी किया गया। ऐप दुकानदार और ग्राहक दोनों ही अपनी सुविधा के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। 2 किलोमीटर के घेरे में आने वाले दुकानदार की प्रोफाइल खरीददार को इस ऐप पर नजर आ जाया करेगी। जिससे कहां से सामग्री मंगवाई जा रही है, इसकी लोकेशन पता चल जाएगा करेगी।

“झारखंड बाजार मोबाइल ऐप” के जरिए झारखंड निवासी नजदीकी दुकानदार से अपनी जरूरत का हर सामान घर पर ही मंगवा सकते हैं। इस मोबाइल ऐप से दूर दराज के क्षेत्रों में रहने वाले झारखंड निवासी खाने-पीने की सामग्री बिना किसी रूकावट के तथा घर से बाहर निकले बिना ही मंगवा सकते हैं। जो लोग शहरों में आकर अपनी जरूरतों को पूरा नहीं कर सकते, उनकी सारी समस्याएं इस ऐप के जरिए हल हो जाएंगी।

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप 2022 शुरू करने का उद्देश्य (Jharkhand Bazar app 2022: Objectives)

लॉकडाउन के चलते लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने इस मोबाइल ऐप को लांच किया। इसको शुरू करने का उद्देश्य यही है कि नागरिक घरों में सुरक्षित रहें और उन तक उनकी जरूरत का हर एक सामान नजदीकी दुकानों से उनके घरों तक पहुंचाया जा सके।

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप 2022 के लाभ (Jharkhand Bazar app 2022: Benefits)

  • लॉकडाउन के चलते लोग बिना किसी रूकावट के रोजमर्रा की चीजों को नजदीकी दुकानों से मंगवा पाएंगे।
  • लोगों को घरों से बाहर निकलने की जरूरत नहीं पड़ेगी और लोगों की सुरक्षा पर कोई आंच भी नहीं आएगी।
  • इस मोबाइल ऐप के उपयोग से ग्राहक 2 किलोमीटर के घेरे में आने वाले नजदीकी दुकानों के संपर्क में आ जाएंगे और वहां से अपनी जरूरत की चीजों को बिना बाहर जाए खरीद पाएंगे।
  • दुकानदारों को अपना काम करने में आसानी होगी।
  • इस मोबाइल ऐप से ना केवल दुकानदार बल्कि ग्राहकों को भी फायदा होगा।

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप की विशेषताएं तथा यह कैसे काम करती है

  • झारखंड बाजार मोबाइल ऐप दुकानदार और ग्राहक को आपस में जोड़ती है।
  • इस ऐप में लॉगिन के बाद उपभोक्ता को लोकेशन के 2 किलोमीटर के अंदर पढ़ने वाली सभीपंजीकृत दुकानें, दुकानदारों के नाम तथा उनके मोबाइल नंबर उपलब्ध हो जाते हैं।
  • दुकानदार इस ऐप के जरिए अपने साथ-साथ दो और लोगों को भी जोड़ सकता है, इस प्रकार की सुविधा दुकानदार को उपलब्ध करवाई गई है।
  • जो दो लोग दुकानदार द्वारा अपने साथ जोड़े जाएंगे,वह डिलीवरी स्टाफ की तरह रजिस्टर्ड होंगे।
  • सामान डिलीवर करने के लिएइस ऐप में M-Pass की सुविधा भी प्रदान की गई है।
  • डिलीवरी स्टाफ M-Pass के जरिए सिर्फ 2 घंटे तक ही काम कर सकता है। 

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप 2022 के लिए जारी किए गए दिशा निर्देश (Jharkhand Bazar app 2022: Guidelines)

  • यह मोबाइल ऐप केवल झारखंड निवासियोंकी सुविधाके लिए बनाई गई है, अर्थात इस मोबाइल ऐप का इस्तेमाल केवल झारखंड निवासी कर सकते हैं।
  • सरकार द्वारा जिन क्षेत्रों को हॉटस्पॉट घोषित किया गया है, वहां पर इस मोबाइल ऐप का उपयोग नहीं किया जा सकता, ना ही उन क्षेत्रों में किसी भी प्रकार के सामान की डिलीवरी दुकानदारों द्वारा ग्राहकों को की जाएगी

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप 2022 डाउनलोड करने की  प्रक्रिया (Jharkhand Bazar app 2022: Downloading process)

  • झारखंड बाजार मोबाइल ऐप को दुकानदार एवं ग्राहक दोनों ही डाउनलोड कर सकते हैं।
  • झारखंड बाजार मोबाइल ऐपगूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है, इस मोबाइल ऐप को डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले गूगलप्ले स्टोर पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात झारखंड बाजार को सर्च करना होगा।सर्च करते वक्त कई प्रकार की “झारखंड बाजार मोबाइल ऐप” स्क्रीन पर दिखने लगेंगी परंतु केवल Jharkhand Bazar JSU-NIC द्वारा डिवेलप की हुई ऐप को ही इंस्टॉल करना होगा क्योंकि यह ऑफिशियल ऐप है।
  • अगर सर्च ना करना हो तो निम्नलिखित लिंक पर क्लिक करके भी डायरेक्टझारखंड बाजार मोबाइल ऐप पर जाया जाए।
  • https://play.google.com/store/apps/details?id=com.encoders.saharashop
  • इसके उपरांत इंस्टॉल करने का ऑप्शन आ जाएगा, जिसको क्लिक करते ही “झारखंड बाजार मोबाइल ऐप” डाउनलोड होने लग जाएगी।
  • ऐप इंस्टॉल होने के उपरांत साइन अप (sign up) का सेक्शन दिखाई देगा।
  • इस सेक्शन में दो विकल्प दिखाई देंगे एक है Merchant, दूसरा है ग्राहक/Buyer

 झारखंड बाजार मोबाइल ऐप में दुकानदार रजिस्ट्रेशन

  • दुकानदार अगर इस मोबाइल ऐप में रजिस्ट्रेशन करना चाहता है, तो उसे sign up के उपरांत मर्चेंट विकल्प को चुनना होगा।
  • मर्चेंट को क्लिक करने के पश्चात Add Delivery Boy”के बटन को क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद डिलीवरी करने वाले स्टाफ की जानकारी जैसे की डिलीवरी ब्वॉय का नाम, पिता का नाम, मोबाइल नंबर और पता भरना होगा।
  • यह सब भरने के बाद दुकानदारका नाम “झारखंड बाजार मोबाइल ऐप” में रजिस्टर हो जाएगा।
  • इसके उपरांतदुकान झारखंड बाजार मोबाइल ऐप” के डेटाबेस के अंदर सेव हो जाती है, फिर कोई भी व्यक्ति जिसने इस बाजार मोबाइल ऐप को अपने मोबाइल में इंस्टॉल किया है। उसको दुकान को सर्च करते समय सूची में पंजीकृत दुकानदार की दुकान दिखने लग जाएगी।

झारखंड बाजार मोबाइल ऐप में ग्राहक रजिस्ट्रेशन

  • ग्राहक अगर इस मोबाइल ऐप में अपना नाम रजिस्टर करना चाहता है, तो उसे साइन अप के उपरांत ग्राहक / Buyer  के सेक्शन में जाना होगा।
  • ग्राहक को M-Pass बनाने के लिए “Get Me M-Pass” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस बटन पर क्लिक करने के पश्चात टाइम स्लॉट का चयन करके ग्राहक M-Pass को मोबाइल फोन पर शुरू कर लेगा अर्थात ग्राहक को M-Pass मोबाइल पर उपलब्ध हो जाएगा और वह बिना किसी रूकावट के दुकानदारों सेराब्ता कायम कर पाएंगे।

 “झारखंड बाजार मोबाइल ऐप ग्राहकों एवं दुकानदारों की सुविधा के लिए बनाई गई है।इस मोबाइल ऐप से ग्राहक अपने घर से दुकान की दूरी को देखकर अपनी सुविधानुसार सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं। National Informatics Centre Jharkhand द्वारा विकसित की गई ऐप झारखंड निवासियों को काफी हद तक परेशानियों से मुक्ति दिलाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here