हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 2021 | Harit Kranti Krishonnati Yojana 2021

0
1691
Harit Kranti Krishonnati Yojana
Harit Kranti Krishonnati Yojana

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 2021 | Harit Kranti Krishonnati Yojana 2021

भारत देश में 1960-63 के दौरान देश के 7 राज्यों के 7 जिलों को चुनने के बाद हरित क्रांति कृषि जिला कार्यक्रम नाम का एक प्रयोग किया गया। इस प्रयोग के अंतर्गत देश में हरित क्रांति को बढ़ावा दिया गया। प्रयोग की सफलता के पश्चात 1966-67 में देश के अंदर हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना के नाम से इस प्रयोग को पूरे देश में लागू कर दिया गया।

इसके बाद से हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना को पंचवर्षीय योजना के तहत 2018 से लेकर 2019 तक जारी रखने की स्वीकृति दी गई। इस योजना को छतरी योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में लागू किया गया अथवा 2020 में इसे जारी रखने की स्वीकृति दी गई और इस समय इस योजना में 11 नई योजनाएं सम्मिलित की गई ताकि देश में हरित क्रांति को प्रोत्साहन मिल सके और कृषकों की भी सहायता की जा सके।

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 2021 का उद्देश्य | Harit Kranti Krishonnati Yojana 2021 : Objectives

 2022 तक देश के किसानों की आमदनी 2 गुना बढ़ जाए और देश में हरित क्रांति के तहत आर्थिक व्यवस्था में भी वृद्धि हो, यही हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना का उद्देश्य है। इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार बहुत सारे प्रयत्न कर रही है।

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 2021 की विशेषताएं | Harit Kranti Krishonnati Yojana 2021 : Features

  • हरित क्रांति योजना कृषि उन्नति योजना में किसानों की भलाई के लिए 11 नई योजनाएं जोड़ी गई है, यह योजना 11 योजनाओं का समूह है।
  • इस योजना के तहत देश के हर वर्ग से संबंधित किसानों को कृषि संबंधी सहायता प्रदान की जाएगी।
  • फसलों के उत्पादन से लेकर फसलों के मंडीकरण, भंडारण की सारी सुविधाएं किसानों तक पहुंचाई जाएगी।
  • इस योजना के तहत किसानों को ऑनलाइन मंडीकरण की सुविधा भी प्रदान करने की कोशिश की जा रही है।

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना में सम्मिलित 11 योजनाएं

2020 में किसानों की उन्नति को 2 गुना करने के लिए कृषि मंत्रालय के अधीन हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना में 11 योजनाएं और सम्मिलित की गई है, हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 11 योजनाओं का समूह है। इन योजनाओं का विवरण निम्नलिखित प्रकार है:-

 

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना में सम्मिलित योजनाएं योजनाओं का विवरण
एकीकृत  बागवानी विकास मिशन (MIDH) इस मिशन के अंतर्गत देश के अंदर जितने भी कृषि परिवार हैं, उन सभी परिवारों के लिए पोषण सुरक्षा में सुधार तथा उनकी समर्थन आय में बढ़ावा देने की कोशिश की जाएगी।
राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन / राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल   पाम  मिशन (NMOOP : National Mission On Oilseeds And Oil Palm) इस मिशन के तहत चावल, गेहूं, दलहन, मोटे अनाज और वाणिज्य फसलों के उत्पादन में वृद्धि तथा वनस्पति तेलों की उपलब्धता में भी वृद्धि करके कृषकों की आमदन में बढ़ावा किया जाएगा।
राष्ट्रीय संधारणीयकृषि मिशन (National Mission For Sustainable Agriculture-NMSA) इस मिशन के अनुसार एकीकृत कृषि उपयुक्त मुद्रा स्वास्थ्य प्रबंधन तथा संसाधन संरक्षण प्रौद्योगिकी को क्रियाशील बनाया जाएगा।

इसके अतिरिक्त विशिष्ट कृषि पारिस्थितिकी के लिए सर्वाधिक उपयोग, धारणीय कृषि प्रथाओं को मनोबल को बल दिया जाएगा।

कृषि विस्तार पर उप-मिशन (SMAE) इस मिशन के तहत राज्य सरकारी निकायों के कार्य विस्तार तंत्र को मजबूत बनाने हेतु प्रभावी संबंध और समन्वय स्थापित करने के साथ-साथ इलेक्ट्रिक प्रिंट मीडिया एवं टूल के व्यापक एवं उपयोग को बढ़ावा दिया जाएगा।
बीज और रोपण सामग्री पर उप-मिशन (SMSP) इस मिशन का उद्देश्य प्रमाणित गुणवत्तापूर्ण बीजों का उत्पादन बढ़ाकर और बीज उत्पादन में नई प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देना है। इसके साथ-साथ बीज प्रतिस्थापन दर (Seed replacement rate -SSR) को भी बढ़ावा देना है।
कृषि मशीनीकरण पर उप-मिशन (SMAM) इस मिशन के तहत लघु एवं सीमांत किसानों तक कृषि मशीनीकरण पहुंचाने के लिए कस्टम हायरिंग सेंटर को बढ़ावा देना, इसके साथ उच्च प्रौद्योगिकी और उच्च मूल्य वाले कृषि उपकरणों के लिए केंद्र स्थापित करके किसानों को कृषि उपकरणों के बारे में जानकारी प्रदान करना तथा पूरे देश में स्थित ट्रस्ट परीक्षण केंद्रों का प्रदर्शन परीक्षण और प्रमाण सुनिश्चित करके किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा।।
पौध संरक्षण और पौधों के अलगाव पर उप-मिशन (SMPPQ) इस मिशन के अंतर्गत कीटो, खरपतवारओं के द्वारा किए जाने वाले विनाश से कृषि फसलों की गुणवत्ता में होने वाली हानि को कम करने के अलावा विभिन्न प्रजातियों के आक्रमण पर किसानों को सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा वैश्विक बाजारों में भारतीय कृषि वस्तुओं का निर्यात करके किसानों को आर्थिक तौर पर सहायता प्रदान की जाएगी।

विशेष रूप से पौधों को संरक्षित करने की रणनीतियां के संबंध में किसानों को प्रेरित किया जाएगा।

कृषि जनगणना अर्थशास्त्र और सांख्यिकी  योजना (ISACES) इस मिशन के तहत कृषि जनगणना, प्रमुख फसलों की कृषि करने की लागत का अध्ययन करके किसानों की आर्थिक समस्याओं पर अनुसंधान करके उन्हें फसल कटाई तथा फसल की खेती और फसल उत्पादन पर सूचना प्रणाली के तहत अवगत किया जाएगा।
कृषि सहयोग पर एकीकृत योजना (ISAC) इस परियोजना के अनुसार सहकारी समितियों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने के साथ-साथ क्षेत्रीय असंतुलन दूर करने और कृषि प्रसंस्करण, भंडारण, कंप्यूटरीकरण और कमजोर वर्गों के कार्यक्रमों में सहकारी विकास को प्रोत्साहित करके देश के किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा।
कृषि विपणन पर एकीकृत योजना (ISAM) इस योजना में कृषि उपज की ग्रेडिंग मानकीकरण और गुणवत्ता प्रमाणन के लिए किसानों को सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

राष्ट्रव्यापी विपणन सूचना नेटवर्क को स्थापित किया जाएगा।

कृषि वस्तु में अखिल भारतीय व्यापार सुविधाजनक बनाने के लिए ऑनलाइन बाजार मंच के माध्यम से बाजारों को एकीकृत किया जाएगा ताकि किसान ऑनलाइन माध्यम से कृषि बाजारों की स्थिति जान पाए।

 राष्ट्रीय ई-शासन योजना इस योजना के अनुसार संपूर्ण फसल चक्र के दौरान सूचनाएं और सेवाएं किसानों तक पहुंचाई जाएगी तथा केंद्र एवं राज्यों के वर्तमान ICT (Information & Communications Technology) का निर्माण और एकीकरण किया जाएगा।

 

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना का बजट

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना केंद्र सरकार द्वारा तैयार की गई वित्त पोषित योजना है। इस योजना का बजट 33,26 9.976 करोड़ रुपए है। 11 योजनाओं को जारी रखने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 3 वित्तीय वर्षों के लिए यह बजट निर्धारित किया है जोकि इस साल तक जारी रहेगा।

हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना 2021: निष्कर्ष | Harit Kranti Krishonnati Yojana 2021 : Conclusion

यह योजना पूरे देश के किसान चाहे वह किसी भी वर्ग से संबंध रखते हैं, उन किसानों की सहायता के लिए तथा उनकी आमदनी में वृद्धि के लिए यह योजना शुरू की गई है। इस योजना की अवधि बढ़ाने का कारण यही है, देश का कोई भी किसान इस योजना के लाभ से वंचित ना रह जाए।

किसानों की आमदनी में बढ़ावा करने के लिए और उन्हें फसल उत्पादन, भंडारण के उचित साधन उपलब्ध करवाने के लिए इस योजना की अवधि को बढ़ाया गया है।

सरकारी योजना List 2021 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here