Har Ghar Nal Ka Jal Yojana 2022 | आइए जानें इस योजना के बारे में विस्तार से

0
1595
Har Ghar Nal Ka Jal Yojana
Har Ghar Nal Ka Jal Yojana 2021

भारत में हर घर नल का जल 2022 (Har Ghar Nal Ka Jal Yojana)

साल 2019 में ही मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान इस योजना का प्रारंभ किया गया था जिसके तहत हर घर में नल और हर घर में जल पहुंचाने की बात कही गई थी। मोदी सरकार ने कहा कि उनका जल जीवन मिशन साल 2024 तक पूरा किया जाएगा जिसके अंतर्गत प्रत्येक ग्रामीण घर में जो प्रत्येक राज्य में स्थित है वहां के जल शक्ति मंत्रालय मिलकर काम करेंगे और प्रत्येक घर में उनका खुद का नल का जल पहुंचाया जाएगा।

इस योजना के ऊपर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत में पानी की सुरक्षा और सभी भारतीयों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना मोदी सरकार की पहली प्राथमिकता है जिसके अनुसार बड़े कदम उठाया जाएंगे। इस योजना के तहत जल शक्ति मंत्रालय का गठन भी किया गया जो भारत देश के प्रत्येक राज्य के प्रत्येक ग्रामीण क्षेत्र पर जल की उपलब्धता पर ध्यान देंगे।

हर घर नल का जल पांच बिंदुओं पर रखी गई नजर (Har Ghar Nal Ka Jal Yojana: Guidelines)

साल 2019 में ही जल शक्ति अभियान का आगाज कर दिया गया था जिसके तहत 256 जिलों के अधिक प्रभावित 1592 खंडों पर अधिक जोर दिया गया। इस योजना के तहत मुख्य पांच बिंदुओं पर ज्यादा ध्यान दिया गया जिसमें जल संरक्षण और वर्षा जल संचयन, परंपरागत और दूसरे जल निकायों के नवीनीकरण, जल के दोबारा इस्तेमाल और ढांचों की पुनर्भरण जल विभाजन विकास और गहन वनीकरण के साथ साथ पेयजल की सफाई पर मुख्य ध्यान केंद्रित किया गया।

इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार के अपर सचिव और संयुक्त सचिवों को 256 जिलों का काम पूरी तरह से सौंप दिया गया। इस योजना का मुख्य कार्यकारी गजेंद्र सिंह शेखावत और रतन लाल कटारिया को बनाया गया जिनकी देखरेख में सभी जिलों में शुद्ध नल जिससे घर घर में जल पहुंचाने की योजना का कार्य किया जाएगा।

हर घर नल का जल अब तक इन राज्यों में पहुंच चुकी है यह योजना (Har Ghar Nal Ka Jal Yojana 2022)

बिहार हर घर नल जल योजना (Bihar Har Ghar Nal Ka Jal Yojana):– बिहार राज्य ने इस योजना को अपनाया और योजना के तहत केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय के सामने यह अर्जी लगाई कि साल 2020-21 तक सभी नालों के कनेक्शन लगा दिए जाएं ताकि अधिक से अधिक लोगों को जल की प्राप्ति हो सके। इस योजना के तहत बिहार के 38 जिलों को 100 फ़ीसदी शुद्ध जल प्रदान करने की योजना बनाई गई। बिहार में लगभग 1.50 करोड़ घरों में नल के कनेक्शन के कनेक्शन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए बिहार सरकार द्वारा 1832.66 करोड रुपए की राशि की घोषणा की गई है।

कोरोना वायरस की इस महामारी के दौरान स्वच्छ पानी का महत्व और ज्यादा बढ़ गया है जिसमें हाथ धोने और स्वच्छता बनाए रखने की बहुत ज्यादा जरूरत है जिस को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने इस योजना में कार्यान्वयन का काम बहुत तेजी से प्रारंभ कर दिया है। इस योजना के चलते पिछले काफी समय के दौरान बहुत ज्यादा बदलाव आया है जिसके अंतर्गत बहुत सारे घरों में अब तक पानी का कनेक्शन पहुंचा दिया गया है।

उत्तर प्रदेश हर घर नल जल योजना (UP Har Ghar Nal Ka Jal Yojana)::– सीएम आदित्य योगी नाथ द्वारा इस योजना का प्रारंभ उत्तर प्रदेश में किया गया। जिसके बाद बहुत सारे घरों में अब तक शुद्ध जल पहुंचाने का कार्य किया जा चुका है और कुछ प्रतिशत बाकी है जिस पर काम किया जा रहा है।

सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना का लाभ पूरे देश में मौजूद प्रत्येक ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक घर को प्राप्त होगा। परंतु इसमें थोड़ा और समय लगेगा इसकी अधिकतम सीमा मोदी सरकार ने साल 2024 तक निर्धारित की है। शुद्ध पेयजल प्राप्त करना सबका अधिकार है और इस योजना के तहत सब अपने अधिकार की प्राप्ति जल्दी कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here