डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 2021 | Digital India Program 2021 

    0
    1712
    Digital India 2021
    Digital India 2021

    डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 2021 | Digital India Program 2021 

    भारत सरकार का डिजिटल इंडिया देश की जनता को सरकारी विभागों से जोड़ने की एक पहल है। इसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि सरकारी सेवाएँ बिना किसी कागजी सहायता के इलेक्ट्रॉनिक रूप से जनता तक पहुँच सके। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण इलाकों तक हाई स्पीड ब्रॉड बैंड इंटरनेट सेवा को पहुंचाना भी है। डिजिटल इंडिया के तीन प्रमुख घटक है :-

    1. डिजिटल आधारभूत सेवा का निर्माण करना।
    2. इलेक्ट्रॉनिक रूप से सेवाओं को जनता तक पहुंचाना।
    3. डिजिटल साक्षरता।
    कार्यक्रम का नाम डिजिटल इंडिया प्रोग्राम
    कार्यक्रम लागू करने की तिथि 1 जुलाई 2015
    उद्देश्य आई टी क्षेत्र को बढ़ावा देकर कार्यो में पारदर्शीता लाना, भ्रष्टाचार खत्म करना तथा समय की बचत।
    लाभ भ्रष्टाचार पर लगाम, कार्य में पारदर्शिता, समय की बचत तथा कार्य में आसानी।
    लाभार्थी भारत के नागरिक
    वेबसाइट digitalindia.gov.in

     

    1 जुलाई 2015 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया प्रोग्राम की शुरुआत की। डिजिटल इंडिया मोदी सरकार के प्राथमिकता देने वाली योजनाओं में से एक है। इस योजना के तहत सभी काम डिजिटल होने से समय के बचत के साथ-साथ कार्यो में पारदर्शिता आयेगी और बिचौलियों द्वारा भ्रष्टाचार पर लगाम लगाया जा सकेगा। योजना को 2019 तक कार्यान्वित करने का लक्ष्य रखा गया। एक टू-वे प्लेटफॉर्म का निर्माण किया जायेगा, जहाँ सेवा प्रदाता और उपभोक्ता दोनों को लाभ होगा। यह एक अंतरमंत्रालयी पहल होगी, जिसके तहत सभी मंत्रालय अपनी सेवाएँ जनता तक पहुँचाया जायेगा। जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा, न्यायिक सेवा इत्यादि। चयनित रूप से पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल को अपनाया जायेगा। इसके अतिरिक्त राष्ट्रिय सुचना केंद्र की पूनर्निर्माण की भी योजना है।

    डिजिटल इंडिया के प्रमुख स्तंभ 2021 | Nine Pillars of Digital India:

    1. सड़क हाइवे के तर्ज पर ब्रॉड बैंड हाइवे

    यह डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का पहला स्तंभ है, जैसे देश में सड़क हाईवे हैं; उन्हीं सड़क हाईवे की तर्ज पर पूरे देश में ब्रॉडबैंड हाईवे बनाए जाएंगे, जहां पर लोग ओपन वाईफाई का इस्तेमाल करके इंटरनेट की सुविधा का आनंद उठा पाएंगे और यह ब्रॉडबैंड हाईवे लोगों को मुफ्त में इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करवाएंगे।

    2. सबको फोन की उपलब्धता

    देश में लगभग 44,000 क्षेत्रों में मोबाइल पहुंचाने की गारंटी के साथ सरकार ने 2018 में सभी शहरों तक मोबाइल फोन सिलेक्टिव की सुविधा सुनिश्चित करने के लिए इस कार्यक्रम में दूसरा स्तंभ फोन की उपलब्धता सुनिश्चित किया है। इसके तहत देश के सभी शहरों, कस्बों में हर एक व्यक्ति तक फोन की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। नक्सलवाद से प्रभावित क्षेत्रों तक भी फोन की सुविधा पहुंचाने के प्रयास इस कार्यक्रम के तहत किए जाएंगे।

    3. सार्वजनिक इंटरनेट सेवा के माध्यम से इंटरनेट तक सबकी पहुंच

    इस कार्यक्रम का डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का तीसरा स्तंभ के माध्यम से इंटरनेट की सुविधा सब लोगों तक पहुंचाई जाएगी। इस स्तंभ के मद्देनजर पूरे देश में सुविधा केंद्रों की तरह सार्वजनिक इंटरनेट सेवा केंद्र बनाए जाएंगे, जहां से प्रत्येक व्यक्ति तक इंटरनेट की सुविधा पहुंचाई जाएगी। इंटरनेट सुविधा पहुंचाने का मुख्य कारण देश को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आगे बढ़ाना है; सार्वजनिक इंटरनेट सेवा के तहत देश में इंटरनेट कनेक्टिविटी पर मुख्य फोकस रखा जाएगा।

    4. ई-गवर्नेस (टेक्नोलॉजी की मदद से शासन)

    ई-गवर्नेस अर्थात टेक्नोलॉजी की मदद से शासन। ई-गवर्नेंस के तहत सरकार को प्रकार के हर एक काम में पारदर्शिता लाने के लिए हर विभाग को ऑनलाइन पोर्टल पर डाल दिया जाएगा। जितने भी कार्यालय हैं, उन सभी सरकारी कार्यालयों में आवेदन पत्रों के सरलीकरण एवं जानकारियों के लिए ऑनलाइन माध्यम का इस्तेमाल किया जाएगा अर्थात लोगों को ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध करवाते हुए ऑनलाइन पोर्टल का इस्तेमाल करना सिखाया जाएगा और लोग ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर ही घर बैठे सारी जानकारियां प्राप्त कर पाएंगे; यही ई-गवर्नेस का उद्देश्य है।

    5. ई-क्रांति (इलेक्ट्रॉनिक सेवाएं) के तहत विभिन्न सेवाओं को इलेक्ट्रॉनिक रूप में लोगो तक पहुंचाना।

    ई-गवर्नेस की तरह ही ई-क्रांति के तहत सभी सेवाओं को इलेक्ट्रॉनिक रूप दे दिया जाएगा। जितने भी काम पहले ऑफलाइन होते थे, उन सभी कामों को ऑनलाइन करते हुए देश में इलेक्ट्रॉनिक सेवाओं में बढ़ोतरी कर दी जाएगी। विभिन्न परियोजनाओं और विभागों के सारे कार्यों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में परिवर्तित कर दिया जाएगा ताकि देश के अंदर डिजिटलाइजेशन का स्तर ऊंचा हो।

    6. सभी के लिए सूचना

    इस स्तम्भ के तहत सरकारी मंत्रालय और विभाग में सभी को खुले प्रारूप में आंकड़े में जानकारियां प्रदर्शित करने के लिए एक ही पोर्टल मुहैया करवा दिया जाएगा, जहां पर नागरिक जो ओपन प्लेटफार्म होगा, वहां पर आम नागरिक सभी जानकारियों का उपयोग, पुनर उपयोग या पुनर वितरण कर सकते हैं। जितनी भी सूचनाएं सरकारी मंत्रालयों द्वारा जनहित में जारी की जाएंगी; उन सभी सूचनाओं को एक ही प्लेटफार्म पर लोगों की सुविधा के लिए जारी किया जाएगा।

    7. इलेक्ट्रॉनिक मैनुफैक्चुरिंग भारत में इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के लिए कल पुर्जे के आयात को शून्य करना

    भारत में इलेक्ट्रॉनिक उत्पादन के आयात को शून्य करने के लिए देश के अंदर इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा दिया जायेगा। इस कार्यक्रम के तहत इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग की जाएगी। एक सर्वेक्षण के मुताबिक विश्व भर में हर 1 साल इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की मांग 22% बढ़ जाती है, इस मांग का एक बड़ा हिस्सा भारत द्वारा आयात किया जाता है। जिससे ना सिर्फ विदेशी मुद्रा कोष में कमी आती है बल्कि अर्थव्यवस्था पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। नकारात्मक प्रभाव को घटाने के लिए देश में इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद निर्माण को प्रोत्साहित किया जाएगा ताकि आयात को 0 किया जा सके।

    8. आई टी के जरिए रोजगार | IT for Jobs 2021

    डिजिटल कार्यक्रम का एक प्रभावी स्तंभ आईटी के जरिए रोजगार है। आईटी के जरिए देश के नौजवान लड़के-लड़कियों को क्षेत्र में प्रशिक्षित करके इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में रोजगार उपलब्ध कराये जायेंगे। इस स्तंभ के मद्देनजर पूरे देश में बहुत सारे इस प्रशिक्षण केंद्र खोले गए हैं ताकि नौजवानों को इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी और प्रशिक्षण दिया जा सके। प्रशिक्षण देने का एक कारण यह भी है देश के नौजवानों को भविष्य के दूरसंचार आईटी क्षेत्रों के लिए तैयार किया जा सके।

    9. भविष्य की तैयारी का कार्यक्रम (जल्द परिणाम देने वाले प्रोग्राम) | Early Harvest Programmes

    विश्व स्तर पर डिजिटलाइजेशन के विस्तार को देखते हुए भविष्य कार्यक्रम तैयारी का कार्यक्रम के नाम का स्तम्भ भी निश्चित किया है। भविष्य कार्यक्रम तैयारी का मतलब यह है कि देश का भविष्य तभी रोशन होगा, जब देश का प्रत्येक नागरिक डिजिटलाइजेशन के महत्व को समझ पाए और इस महत्व को समझने के लिए देश के नागरिकों को डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का हिस्सा बनना पड़ेगा। भविष्य की तैयारी के लिए प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किए जाएंगे, इसके अतिरिक्त जितनी भी योजनाएं हैं; सभी योजनाओं को ऑनलाइन करके भविष्य की तैयारी का आरंभ हो पाएगा।

    डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के यह स्तंभ डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का आधार है। जब देश में यह 9 स्तंभ पूर्ण तौर पर लागू हो जाएंगे और प्रत्येक नागरिक इन 9 स्तम्भों के तहत डिजिटलाइजेशन से जुड़ जाएगा, तब डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का उद्देश्य पूरा होगा।

    डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 2021 के तहत विभिन्न उत्पाद | Digital India Program 2021

    डीजी लॉकर :

    इस प्रणाली के तहत आपके महत्वपूर्ण दस्तावेजों को सुरक्षित रखा जाता है। आधार कार्ड धारक सभी व्यक्तियों के लिए, विभिन्न सरकारी विभाग और एजेंसियों द्वारा जारी किये गए, अन्य आधिकारिक दस्तावेजो को ऑनलाइन संग्रहित करने की सुविधा प्रदान करता है। सिस्टम यूआरआई लिंक के माध्यम से सुरक्षित डेटा साझा प्रदान करने मदद भी करता है।

    राष्ट्रिय छात्रवृति पोर्टल (एक वेबसाइट के अंतर्गत सभी छात्रवृति) :

    इस वेबसाइट के तहत आप विभिन्न केंद्रीय और राज्य सरकारों तथा अन्य एजेंसियों द्वारा प्रदान की जाने वाली छात्रवृति के लिए ऑनलाइन आवेदन के साथ पंजीकरण भी कर सकते हैं। यह योजना लाभार्थियों के खाते में छात्रवृत्ति की राशि प्रभावी और त्वरित गति से भेजने में मदद करता है।

    हॉस्पिटल/ओआरएस :

    इस प्रणाली के तहत आपको विशेष सरकारी अस्पताल में ऑनलाइन डॉक्टरों से अपोइंटमेंट लेने की सुविधा प्रदान करता हैं। इसका उद्देश्य आम आदमियों को समय की बचत करवाना और डॉक्टरों की तलाश में अस्पताल में इधर-उधर भटकने से बचाना है। इसमें मरीज अपने रिपोर्ट को ऑनलाइन भी देख सकते हैं।

    साइन

    ई-साइन या डिजिटल हस्ताक्षर प्रत्येक आधारकार्ड धारक को यह सुविधा प्रदान करता है कि वे दस्तावेजो पर डिजिटली हस्ताक्षर कर सकते हैं। इसे सेवा वितरण अनुप्रयोगों के साथ एकीकृत किया जा सकता है।

    डिजिटाईड इंडिया प्लेटफॉर्म (डीआईपी) :

    रिकॉर्ड रूम और कार्यालयों के कागजात के ढेरों को कम करने के लिए, भौतिक अभिलेखों को डिजिटाईड करने के लिए।

    माईगॉव मोबाइल ऐप :

    माईगॉव ऐप पर नागरिक अपने विचारों को साझा कर सकते है और देश एवं समाज के मुद्दे पर अपनी राय को रख सकते हैं।

    स्वच्छ भारत मिशन ऐप :

    स्वच्छ भारत अभियान की जागरूकता के लिए तथा स्वच्छ भारत अभियान के कार्यक्रमो से जुड़ने के लिए इस ऐप को विकसित किया गया है।

    डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 2021 का उद्देश्य | Digital India Program 2021 : Objective

    डिजिटल इंडिया का प्रमुख उद्देश्य आई टी के क्षमता को इस्तेमाल कर देश और समाज को डिजिटल रूप में सशक्त बनाना है।

    इस योजना के माध्यम से भारत में कार्यरत छोटे-बड़े विभागों को डिजिटली रूप से विकसित करना भी है।

    डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 2021 का लाभ | Digital India Program 2021 : Benefit

    डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत लोगो को सुविधा मिलने के साथ कई प्रकार के लाभ भी मिलेंगे, जिससे देश में सशक्त समाज का विकास होगा साथ ही हर विभाग की पारदर्शिता भी बढ़ेगी। इससे जुड़े लाभ निम्नलिखित हैं :-

    • डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत अधिक से अधिक लोग इंटरनेट से जुड़ रहे हैं
    • इस प्रोग्राम के तहत आई टी क्षेत्र को बढ़ावा मिल रहा है।।
    • डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत लोगो को अपने व्यापार से जुड़े सभी डाटा का विवरण, अपनी संपत्ति का ब्यौरा इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखना होगा, जिससे कर चोरी की सम्भवना कम होगी साथ ही लोगो को अपने खर्च का ब्यौरा एक क्लिक पर उपलब्ध होगी।
    • डिजिटल इण्डिया प्रोग्राम के तहत सेट अप बॉक्स, पानी, बिजली आदि का बिल आसानी से और समय पर भुगत कर सकेंगे।
    • डिजिटल इंडिया के तहत सरकारी विभाग की सारी जानकारी उपलब्ध होने से सरकारी कार्य में पारदर्शिता बढ़ने के साथ रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी।
    • इस प्रोग्राम के तहत लोगो को सही जानकारी मिलेगी।
    • डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं।
    • इस प्रोग्राम के तहत ई-पुलिस, ई-शिक्षा, ई-कोर्ट से लोगो को अच्छा लाभ मिल रहा है।
    • ऑनलाइन मार्केटिंग, ऑनलाइन मेडिकल सुविधा से लोगो को फायदा मिल रहा है।
    सरकारी योजना List 2021 प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2021

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here