Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2022 मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022 दिल्ली पंजीकरण प्रक्रिया

0
979
Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2021
Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2021

दिल्ली सरकार ने दिल्ली के किसानों के लिए “मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना” की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत योजना का लाभ किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में पहुंचाया जाएगा। किसानों की अनेकों समस्याओं के समाधान के लिए दिल्ली सरकार ने यह तय किया है कि किसानों को फसल की लागत से ज्यादा दाम उपलब्ध करवाया जाएगा। इस योजना से पहले किसानों  को उनकी फसल का अच्छा दाम नहीं मिलता था, जितना दाम मिलता था उससे कहीं ज्यादा फसल पर उनका खर्च हो चुका होता था, जिस वजह से किसानों की आमदनी बहुत ही कम होती थी।

अभी तक किसानों को उनकी फसल के लिए बहुत ही कम राशि का भुगतान किया जाता था जो कि इस योजना के आरंभ होने से काफी हद तक बढ़ जाएगा। जिसका सीधा फायदा किसानों को होगा। इस योजना के अंतर्गत राजधानी दिल्ली में गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाकर किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा।

दिल्ली के विकास मंत्री श्री गोपाल राय जी ने 2019 में सभी विभागों से सलाह मशवरा लेने के बाद इस योजना को सितंबर के मध्य तक कैबिनेट में प्रस्ताव रखा था। इस योजना के अनुसार दिल्ली के लगभग 20,000 से अधिक किसानों को इस योजना का लाभ पहुंचाने का इरादा है। एक गणना के मुताबिक अगर दिल्ली सरकार गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ा देती है तो सरकार पर तकरीबन 100 करोड रुपए का अधिक भार पड़ेगा।

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना का उद्देश्य (Delhi CM Kisan Mitra Yojana 2022: Objectives)

इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि किसानों को उनकी फसल की लागत से ज्यादा कीमत प्रदान की जाए क्योंकि देखा गया है कि कई बार फसल पर खर्च ज्यादा हो जाता है, पर किसान को उनकी मेहनत का उतना दाम नहीं मिलता। इसी बात को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने किसानों के लिए यह तय किया है कि उन्हें उन की फसल पर लगने वाली लागत से 50 फ़ीसदी ज्यादा दाम दिया जाएगा, जिससे उनकी आमदनी में वृद्धि होगी।

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022 के लाभ (Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2022: Benefits)

  • इस योजना के अंतर्गत किसानों की फसल की लागत से 50% ज्यादा दामदिया जाएगा। इसका मतलब यह है कि किसानों को गेहूं के न्यूनतम समर्थन मूल्य से 50 फ़ीसदी ज़्यादा दाम दिया जाएगा।
  • किसानों के गेहूं की कीमत ₹776 प्रति क्विंटल तय की गई है।
  • धान की कीमत ₹897 प्रति क्विंटलतय की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत दिल्ली के करीब 20,000 किसान परिवारों को इस योजना का लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • जो भी वित्तीय सहायता किसानों को पहुंचाई जाएगी, वह सीधे उनके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।
  • सरकार की तरफ से लगभग 100 करोड रुपए का बजट तैयार किया गया है, जिसे जरूरत के हिसाब से बढ़ाया जा सकता है।
  • मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना के अनुसार किसानों को गेहूं के मूल्य ₹2500 प्रति क्विंटल से अधिक कीमत अदा की जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022 के लिए जारी किए गए दिशा निर्देश (Delhi CM Kisan Mitra Yojana 2022: Guidelines)

  • आवेदक दिल्ली का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार की अपनी जमीन होनी चाहिए औरजमीन के आवश्यक कागजात उसके पास होने अनिवार्य हैं।
  • किसान अपनी जमीन पर नियमित खेती कर रहा होना चाहिए।
  • बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
  • आवेदक का जमीन या खेत के खाते में नाम दर्ज होना आवश्यक है, तभी वह इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • जो भी आवेदन इन शर्तों को पूरा करता होगा, वही इस योजना का लाभ लेने के योग्य होगा।

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022 के लिए जरूरी दस्तावेज (Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2022: Required Documents)

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना जो भी किसान इस योजनाके लिए आवेदन करना चाहता है, उसके पास आधार कार्ड होना चाहिए।

  • किसान के पास जमीन के पूरे दस्तावेज होने आवश्यक हैं। अगर उसके पास दस्तावेज ना हो तो, वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।
  • जमीन का रिकॉर्ड, जिसमें जमीन की पूरी जानकारी उपलब्ध हो।
  • आवेदन दिल्ली का मूल निवासी होना चाहिए। किसी और राज्य का किसान इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता।
  • बैंक पासबुक भी किसान के पास होनी जरूरी है।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • वोटर आईडी कार्ड

मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022 पंजीकरण प्रक्रिया (Delhi Mukhyamantri Kisan Mitra Yojana 2022: Registration Process)

 मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2020 का प्रस्ताव कैबिनेट में रखने के बाद जब प्रस्ताव को पास कर दिया गया। उसके बाद मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना को जल्द ही शुरू करने की घोषणा की गई, परंतु अभी तक इस योजना के लिए पंजीकरण प्रक्रिया का आरंभ नहीं किया गया। जब भी इस योजना का आरंभ किया जाएगा, तब इस योजना के साथ जुड़ी सभी जानकारी किसानों तक पहुंचाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here